5 बजे जानिए: जिला अधिवक्ता संघ का कौन होगा नया अध्यक्ष, चल रहा मतदान

कड़े मुकाबले में 431 मतदाता करेंगे अध्यक्ष उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला, पिछली बार था आमने-सामने का मुकाबला, इस बार छह प्रत्याशियों के बीच कड़ी टक्कर

देवेंद्र अवधिया की खास रिपोर्ट

होशंगाबाद. जिला अधिवक्ता संघ के चुनाव आज हो रहे हैं। सुबह 10 बजे से मतदान जारी है। दोपहर 12 बजे तक सौ से अधिक अधिवक्ता अपना वोट डाल चुके थे। शाम 5 बजे परिणाम आते ही तय हो जाएगा कि अगला जिला अध्यक्ष कौन होगा। इस बार के कड़े मुकाबले में 431 मतदाता अध्यक्ष समेत अन्य पदों के सबसे ज्यादा कुल 32 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला कर रहे हैं। अध्यक्ष पद को लेकर घमासान मचा हुआ है। छह उम्मीदवार मैदान में है, जबकि पिछली बार प्रदीप कुमार चौबे और अजीत सिंह रघुवंशी के बीच आमने-सामने का मुकाबला हुआ था। मतदान से पहले रविवार रात से लेकर मतदान के बीच तक प्रत्याशी अधिवक्ताओं से संपर्क कर अपने पक्ष में माहौल बनाने में जुटे रहे। पावर पॉलिटिक्स भी सक्रिय देखी गई। राजनैतिक तौर पर भाजपा-कांग्रेस से जुड़े नेता भी अपने पसंद के प्रत्याशी के पक्ष में अंदरूनी लाबिंग करते नजर आए। इधर, अधिवक्ता संघ के चुनाव अधिकारी सुरेंद्र सिंह राजपूत, अजय तिवारी ने बताया कि मतदान की गति तेज चल रही है। दोपहर 12 बजे तक सौ से अधिक अधिवक्ता अपने मत का उपयोग कर चुके थे। चुनाव अधिकारियों ने सभी मतदाता अधिवक्ताओं से अपने मताधिकार का उपयोग करने की आपील की है। मतदान शाम चार बजे तक चलेगा।


अध्यक्ष के लिए छह प्रत्याशियों में कड़ी टक्कर
संघ के जिला अध्यक्ष पद के लिए छह प्रत्याशियों के बीच कड़ी टक्कर होने जा रही है। इनमें वर्तमान अध्यक्ष प्रदीप कुमार चौबे सहित वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव कुमार दुबे, कृष्णकुमार थापक (केके थापक), दिलीप कुमार नामदेव, अजय प्रकाश श्रीवास्तव, खेमराज चौहान शामिल हैं। इनमें राजीव दुबे वर्तमान में उपाध्यक्ष हैं। श्रीवास्तव भी पहले चुनाव लड़ चुके हैं।

अन्य पदों के ये प्रत्याशी भाग्य आजमा रहे
उपाध्यक्ष पद के लिए शमशाद खान, अखिलेश मिश्रा, मनोज कुमार यादव, जीवन सिंह रघुवंशी, सूरज प्रकाश अग्रवाल, सचिव के लिए कामता प्रसाद यादव, मनोज जराठे, हेमेंद्र सिंह ठाकुर, सह सचिव में दिलीप सिंह ठाकुर, पुरुषोत्तम व्यास उर्फ गुड़ी, धर्मेंद्र यादव, प्रीतम सिंह तोमर, सुरेंद्र सिंह राजपूत, कोषाध्यक्ष पद के लिए राकेश शर्मा, अभिषेक नारायण तिवारी(अभिषेक तिवारी), ग्रंथपाल के लिए श्रीप्रकाश दुबे, प्रभुदयाल चौरे(पीडी चौरे), राकेश बाथरे सहित कार्यकारिणी सदस्य के लिए विष्णु पाल, राजेश चौरे, विजेंद्र सिंह राजपूत, सीके कुरापा, पूजा अवस्थी, क्षमा चौहान, रीतेश विश्वकर्मा, हेमंत कुमार श्रीवास्तव अपना भाग्य आजमा रहे हैं।

ये है वोट का गणित
सूत्रों की मानें तो इस बार के चुनाव में अधिकृत सूची के मुताबिक कुल 431 अधिवक्ता सदस्य मतदान में भाग लेंगे। चूंकि मतदान नवरात्र के बीच हो रहे हैं। इस कारण व्रत-उपवास व घट स्थापना वाले कई अधिवक्ता संभवत: मतदान में भाग नहीं लेंगे। अगर 350 मतदाता ही वोट करते हैं तो बहुत ही कम वोटों से जीत-हार होगी। अध्यक्ष पद को ही देखें तो कुछ छह प्रत्याशी मैदान में है और अपना भाग्य आजमा रहे। प्रत्याशी ज्यादा होने से वोटों का विभाजन भी होगा। मुकाबला बेहद कड़ा रहेगा। प्रत्याशी को अध्यक्ष बनने जीतने के लिए 70 से 80 वोट की जरूरत पड़ेगी। जो प्रत्याशी इतने वोट पा जाएगा, उसकी जीत संभव हो सकेगी। यही स्थिति उपाध्यक्ष, सचिव, सहसचिव पद पर भी बनी हुई है।

devendra awadhiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned