अब तक बड़ा रिकॉर्ड : 95 दिन बिना रुके चली विद्युत इकाई

अब तक बड़ा रिकॉर्ड : 95 दिन बिना रुके चली विद्युत इकाई

sandeep nayak | Publish: Dec, 08 2017 10:36:32 AM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

सतपुड़ा ताप विद्युत गृह की 34 साल पुरानी इकाने ने रचा इतिहास

सारनी। सतपुड़ा ताप विद्युत गृह की 34 साल पुरानी विद्युत इकाई ने बिना रूके 95 दिनों तक चलने का इतिहास रचा है। 210 मेगावाट की यह इकाई अभी भी तकनीकी कारणों से नहीं। बल्कि बिजली की मांग नहीं होने के चलते बंद की गई है। अच्छी बात यह है कि इतने लंबे समय तक चलने के बावजूद इस इकाई में फर्नेस आइल की बिलकुल भी खपत नहीं हुई। विद्युत नियामक आयोग के मापदण्ड अनुसार 1.75 मिली लीटर प्रति यूनिट बिजली उत्पादन करने में आइल की खपत होनी चाहिए। जब तक यह इकाई चली तब तक रोजाना कंपनी को इससे ढाई लाख रुपए के आइल की बचत हुई है।

मौसम बदला घटी बिजली की मांग
प्रदेश में मौसम बदलते ही बिजली की मांग में डेढ़ हजार मेगावाट कमी आई है। इससे सतपुड़ा की 8 नंबर इकाई को रिजर्व शट डाउन में बंद करना पड़ा। फिलहाल सतपुड़ा की 250-250 मेगावाट की 10 व 11 नंबर इकाई चल रही है। इन दोनों इकाइयां से 500 मेगावाट उत्पादन हो रहा है। 6 नंबर इकाई को लाइटअप करने की तैयारी है। 8 नंबर इकाई बिजली की मांग नहीं होने से बंद है। 7 नंबर इकाई कोयले की कमी और 9 नंबर यूनिट तकनीकी कारणों से बंद है।

बीएचईएल ने बनाई है इकाई
बीएचईएल द्वारा जनवरी 1983 में 8 नंबर इकाई स्थापित की थी। तब से इस इकाई में कई बार तकनीकी खराबी सामने आई। लेकिन 34 साल पुरानी इकाई द्वारा इतना बेहतर प्रदर्शन कभी नहीं किया। जैसा कि इस बार प्रदर्शन किया गया है। 1979 से 1984 के बीच सतपुड़ा पॉवर हाउस में भारत हैवी इलेक्ट्रिकल लिमिटेड द्वारा 200 की एक व 210-210 मेगावाट की तीन इकाइयां स्थापित की थी।

कोयले के स्टॉक में सुधार आया
सतपुड़ा ताप विद्युत गृह के प्रवक्ता वीसी टेलर ने चर्चा में बताया कि कोयले के स्टॉक में सुधार आया है। हलांकि कुछ समय पहले तक लगातार कोयले के स्टॉक को लेकर परेशानी अआ रही थी, जो अब नहीं है। फिलहाल 51 हजार मीट्रिक टन कोल स्टॉक है। 8 नंबर इकाई को डिमांड नहीं होने के कारण बंद किया गया है। 6 नंबर इकाई को चालू किया जा रहा है। जिसे लोड पर आने में 12 घंटे का वक्तलगेगा।

------------------------------------------------------------------------

Latest news of power demand in Madhya Pradesh, sarni power plant, power demand in mp

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned