कोरोना का कहरः बंद हो गए पर्यटन स्थल और रिसॉर्ट, आप भी रहें सतर्क

प्रशासन ने बंद कराए होटल और रिसोर्ट

By: poonam soni

Updated: 19 Mar 2020, 12:57 PM IST

सोहागपुर/पिपरिया। कोरोना का खौफ बढ़ते जा रहा है। इसको देखते हुए पर्यटक क्षेत्रों पर भी अलर्ट जारी कर दिया है। अलर्ट के बाद बुधवार दोपहर में कमिश्नर ने पर्यटन केंद्रों को 31 मार्च तक बंद करने के आदेश दिए हैं। इन पर्यटकों स्थलों पर होटलें खाली कराई जा रही है। साथ ही कमिश्रर रजनीश श्रीवास्तव ने आदेश जारी कर ३१ मार्च तक पर्यटकों की एंट्री भी बंद करा दी गई है। इसके अलावा संभाग की होटलों पर भी रोक रहेगी।

आर्मी पर भी रोक
कमिश्रर ने केंद्रीय संस्थानों, आर्मी एयर फोर्स, रेलवे, सिक्योरिटी पेपर मील, आर्डनेंस फैक्ट्री के अधिकारी कर्मचारी के घर पर आने वाली बाहरी रिश्तेदारों, परिचितों पर निगरानी रखने के आदेश जारी किए हैं। कलेक्टर ने टास्क फोर्स गठित करने के लिए भी कहा है।


प्रवेश पर नहीं लगी रोक
बावजूद इसके मढ़ई और पचमढ़ी में पर्यटकों के प्रवेश पर रोक नहीं लग सकी। जबकि सभी होटल और रिसोर्ट बंद करा दिए हैं। हलांकि आमदिनों की अपेक्षा काफी कम पर्यटक पचमढ़ी और मढ़ई पहुंचे। बुधवार सुबह सोहागपुर एसडीएम डीआर बिल्वे की ओर से जारी एक पत्र के बाद तहसीलदार पी निगम ने रिसोट्र्स व होटलों में पहुंचकर बंद कराया है। और यहां ठहरे पर्यटकों को वापसी के आदेश दिए हैं।


बुकिंग के बाद भी नहीं पहुंचे
एसटीआर के अनुसार मंगलवार शाम सफारी के लिए नौ जिप्सियां की ऑनलाइन बुकिंग थी। लेकिन पर्यटक नहीं पहुंचने के कारण पांच जिप्सी ही चलाई गई। वहीं बुधवार सुबह भी बुक 14 जिप्सियों में से छह जिप्सियों के ही पर्यटक पहुंच सके। प्रदेश के इंदौर, भोपाल, गवालियर, जबलपुर आदि महानगरों सहित अन्य प्रदेशों व विदेशों से आने वाले पर्यटकों की संख्या में कमी आई है।

पर्यटन रोकने निर्देश नहीं
बुकिंग कराने वाले कुछ पर्यटक नहीं आ रहे हैं। मौसमी प्रभाव के चलते पर्यटक कम जरूर हुए हैं। सतर्कता रखने के निर्देश प्रत्येक कर्मचारी को दिए हैं। उच्च स्तर से पर्यटन को कुछ समय रोकने का कोई निर्देश अब तक नहीं मिला है।
आरएस भदौरिया, असिस्टेंट डायरेक्टर, एसटीआर, सोहागपुर।

बंद कराए होटल व रिसोर्ट्स
एसडीएम के लिखित आदेश के बाद ग्राम सारंगपुर व जंगल में बने निजी रिसोर्ट्स बुधवार को बंद कराए हैं। सेंचुरी का रेस्ट हाउस बंद कराना हमारे अधिकार क्षेत्र में नहीं है।
पुष्पेंद्र निगम, तहसीलदार सोहागपुर।

पचमढ़ी में स्क्रीनिंग भी नहीं हो रही
पिपरिया। गर्मी के दौरान पचमढ़ी में बड़ी संख्या में देशी विदेशी पर्यटक पहुंचते हैं। लेकिन बुधवार शाम तक पचमढ़ी में प्रवेश को लेकर अधिकृत प्रतिबंध आदेश जारी नहीं किया गया। हलांकि एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी ने बुधवार दोपहर को पर्यटकों, श्रद्धालुओं को पचमढ़ी नहीं पहुंचने की अपील अवश्य जारी की है। एसडीएम ने पर्यटकों और श्रद्धालुओं से 31 मार्च तक पचमढ़ी में प्रवेश नहीं करने की अपील की है। यथा स्थिति का आंकलन करने के बाद एसडीएम ने प्रतिबंध संबंधी नया आदेश अलग से जारी करने की बात कही है। उल्लेखनीय है कि पचमढ़ी में बड़ा महादेव, जटाशंकर, चौरागढ़ मंदिर में बड़ी में श्रद्धालु पहुंचते हैं। साथ ही कई पाइंट देखने के लिए पर्यटक भी पहुंचते हैं। सतपुड़ा टाइगर रिजर्व सहायक संचालक संजीव शर्मा ने बताया कि वर्तमान में पर्यटक संख्या महज 25 फीसदी बची है।

पचमढ़ी प्रवेश द्वार पर नहीं स्क्रीनिंग की व्यवस्था
पचमढ़ी में छावनी परिषद की चैकपोस्ट है। चैकपोस्ट पर पचमढ़ी प्रवेश करने वाले पर्यटकों की स्क्रीनिंग की व्यवस्था अब तक नहीं की गई। पचमढ़ी पर्यटन मित्र मुस्तैन हुसैन ने बताया यहां पहुंचते ही पर्यटकों, नागरिकों की चैकपोस्ट पर आसानी से स्क्रीनिंग हो सकती है। होटल संचालकों ने जरुर पर्यटकों के लिए सेनेटाइजर और मास्क लगाना प्राथमिकता से शुरु कर दिया है।

इनका कहना है
पचमढ़ी में पर्यटक नही पहुंचे इसके लिए अपील जारी की है। स्थिति के अनुसार आवश्यक हुआ तो प्रवेश प्रतिबंधित किया जाएगा।
मदन सिंह रघुवंशी,एसडीएम

31 मार्च तक बंद करने का आदेश
पर्यटन केन्द्रों को 31 मार्च तक बंद करने का आदेश दिया है। पचमढ़ी में जो पर्यटक रुके हैं उन्हें समझाइश दी है। नई बुकिंग पर रोक के साथ आगामी तिथियों की बुकिंग को निरस्त कर पर्यटकों को पैसा वापस करने के लिए होटल संचालकों को निर्देश दिए हैं। सारणी प्लांट, एसपीएम, इटारसी स्थित केन्द्रीय उपक्रमों में बाहर से आने वाले कर्मचारियों व अधिकारियों के आवागमन पर गंभीरता बरतने के निर्देश दिए हैं।
रजनीश श्रीवास्तव, कमिश्नर

रिजर्व क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों के संबंध में वरिष्ठ अधिकारियों से मार्ग दर्शन मांगा है। विभाग से जैसे निर्देश मिलेंगे उसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।

एसके सिंह, क्षेत्र संचालक, एसटीआर

coronavirus Coronavirus in China
Show More
poonam soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned