15 जून से रेत खनन पर रोक, स्टॉक से बिकेगी 10 लाख घनमीटर रेत, बन गए पहाड़

रेत खदानों में एनजीटी के निर्देश पर 15 जून से खनन पर रोक लग जाएगी..खनन पर रोक लगने के बाद स्टॉक से रेत बेची जाएगी..

होशंगाबाद. जिले की ठेके की खदानों में एनजीटी के निर्देश पर 15 जून से खनन पर रोक लग जाएगी। खनन पर रोक लगने के बाद स्टॉक से रेत बेची जाएगी। इसके लिए कंपनी ने करीब 10 लाख घनमीटर का स्टॉक कर लिया है। जिले की 118 खदानें 262 करोड़ के ठेके पर तीन साल के लिए संचालित कराई जा रही है, इनमें से वर्तमान में 36 चालू और 82 बंद हैं। इसके लिए आखिरी दो दिनों में रेत भरने की मारामारी रही, जिलेभर में खदानों से रेत एकत्रित की गई।

ये भी पढ़ें- मंत्री की एक ठोकर से गिर गई दीवार, जमकर लगाई जिम्मेदारों को फटकार, देखें वीडियो

ret_4.jpg

खदानों के रास्ते होंगे बंद, निकासी पर रोक
जैसे ही एनजीटी के निर्देश पर शासन स्तर से खदानों से रेत के उत्खनन पर रोक लागू होगी, वैसे ही पिछले सालों की तरह जिला खनिज विभाग जिले की सभी खदानों के पहुंच वाले रास्तों को जेसीबी-पोकलेन से खोदकर और काटकर अवरूद्ध (बंद) करेगा। जिला खनिज अधिकारी शशांक शुक्ला ने बताया कि इसकी तैयारियां कर ली गई है।

ये भी पढ़ें- दहेज में मांगे लाखों रुपए और बुलेट, दुल्हन ने लालचियों के घर जाने से किया इंकार

ret_5.jpg

फिर भी जारी है अवैध खनन
होशंगाबाद-बुधनी के बीच नर्मदा पुल के नीचे-आसपास, जोशीपुर-जर्रापुर, पड़ौसी जिले सीहोर, रायसेन, हरदा सीमा के नदी तटों पर अंधाधुंध अवैध उत्खनन और रिकॉर्ड रेत की चोरी थम नहीं रही है। होशंगाबाद में भी रेत माफिया ट्रैक्टर-ट्रॉलियों और डंपरों से अभी भी रेत की चोरी कर रहे है। जिस पर रोक लगाना किसी चुनौती से कम नहीं रहेगा।

देखें वीडियो- पुलिस ने मदद कर बचाई जान , बेहोश मरीज को पहुंचाया अस्पताल

Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned