मच्छर का लार्वा मिला तो ऑन स्पॉट होगा जुर्माना

जीका वायरस का खतरा, नपा कर रही फॉगिंग और कीटनाशक का छिड़काव

By: sandeep nayak

Published: 15 Nov 2018, 01:37 PM IST

इटारसी. जीका वायरस को लेकर नगर पालिका सतर्क है। ऐसे में नपा अलर्ट जारी करते हुए लोगों को अपने आसपास मच्छरों के लार्वा नहीं पनपने देने के हिदायत दी। किसी घर में रुका हुआ पानी तथा मच्छर का लार्वा पाया जाता है तो उनसे ऑन द स्पॉट जुर्माना वसूलने की कार्रवाई की जाएगी। नगर पालिका अपने स्तर से सफाई और डेंगू, मलेरिया, जीका वायरस से बचाव के लिए हर संभव कार्य कर रही है। नगर पालिका का स्वास्थ्य अमला जीका वायरस के प्रति सजग और सतर्क होकर शहर में सफाई व्यवस्था, कीटनाशक छिड़काव और फॉगिंग मशीन से धुआ करने में जुट गया है। भोपाल, विदिशा, सीहोर और सागर जिलों में जीका के मरीज मिल रहे हैं। मप्र में अब तक दो दर्जन से अधिक जीका पॉजिटिव मरीज मिले हैं। ऐसे में इससे सटे जिले होशंगाबाद में सतर्कता जरूरी हो गई है।
ऐसे फैलता है जीका - जीका, डेंगू, चिकनगुनिया रोग संक्रमित एडीज मच्छर के काटने से फैलता है और एडीज मच्छर घरेलू पानी की टंकियों, खुले बर्तन, मटके, कुल्हड़, पुराने टायर, गमले तथा बगीचों एवं कूलर आदि में एकत्र पानी में पैदा होता है। क्षेत्र में भी जीका वायरस फैलने की आशंका के तहत जीका से निबटने स्वास्थ्य विभाग के सतत आदेश हैं।
क्या बरतें सावधानी - पानी की टंकियों एवं सभी बर्तनों को पूरी तरह से ढंककर रखें। सप्ताह में एक बार फूलदान, कूलर, पक्षियों, जानवरों के पानी का बर्तन आदि को खाली करें एवं सुखाकर ही पुन: पानी भरें। एडीज मच्छर घर के अंदर अंधेरे एवं ठंडे स्थान पर रहता है। एडीज मच्छर दिन के समय काटता है, अत: पूरी बाहों के कपड़े पहने व पूरे शरीर को ढंककर रखें। मच्छरदानी का उपयोग करें तथा खिड़की, दरवाजों पर मच्छर रोधी जाली लगवाएं। मच्छरों के काटने से बचाव के लिए क्रीम, क्वाइल, रिपेलेंट आदि का उपयोग करें।
जीका वायरस के लक्षण - जीका वायरस से संक्रमित कई लोग खुद को बीमार महसूस नहीं करते, लेकिन इसके आम लक्षण डेंगू बुखार की ही तरह होते हैं। जैसे थकान, बुखार, लाल आंखें, जोड़ों में दर्द, सिरदर्द और शरीर पर लाल चकत्ते। यह वायरस इतना खतरनाक है कि अगर किसी गर्भवती महिला को हो जाए तो गर्भ में पल रहे बच्चे को भी यह बुखार हो सकता है। इसका कोई टीका या उपचार नहीं है।
इनका कहना है...
जीका वायरस के पॉजिटिव मरीज मिले हैं। नगर पालिका अपने स्तर पर हर प्रयास कर रही है। आमजन को भी इसमें एहतियात बरतना होगा। इसके लिए मच्छरों को पनपने जैसे हालात न बनने दें। किसी के यहां यदि लार्वा पाया जाता है तो नगर पालिका ऑन द स्पाट जुर्माना करेगी।
अक्षत बुंदेला, सीएमओ

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned