नर्मदा तवा संगम स्थल पर चार दिन होगी चहल-पहल

मेले में सुरक्षा के लिए बाहर से बुलाया एसएएफ का बल

होशंगाबाद. नर्मदा तवा संगम स्थल बांद्राभान में हर साल लगने वाला मेला रविवार से शुरू हो रहा है। चार दिवसीय इस मेले पर जिले में लगी धारा 144 का असर नहीं रहेगा। मेले को इससे छूट रहेगी। यहां सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए हैं। मेले में लाखों श्रद्धालुओं के आने का अनुमान है। 13 नवंबर तक चलने वाले मेले का रविवार सुबह 11 बजे कमिश्नर रविंद्र मिश्रा औपचारिक शुभारंभ करेंगे। इसके बाद अगले दिन सोमवार 11 नवंबर को दोपहर 12 बजे जिले के प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा के मुख्य आतिथ्य में मेले का शुभारंभ होगा। क्षेत्रीय सांसद-विधायक और अन्य प्रमुख नेता भी मौजूद रहेंगे।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
एसपी एमएल छारी ने बताया मेला स्थल व अन्य चिन्हित स्थलों पर पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती की गई है। मेला स्थल सहित नर्मदा नदी के सभी घाटों पर गौताखोर/तैराक व होमगार्ड जवानों की तैनाती के साथ चिकित्सक भी दवाइयां, एम्बुलेंस के साथ मौजूद रहेंगे। घाटों पर श्रृद्धालुओं के सहयोग के लिए नपा कर्मचारी मौजूद रहेंगे। आदेशित स्थलों पर मवेशी दल, फायर बिग्रेड एवं अनाउन्स (खोया-पाया/पब्लिक एड्रेस सिस्टम) का इंतजाम किया जा रहा है।

बस से पहुंच सकेंगे श्रद्धालु

बांद्राभान मेले में आने वाले लोगों की सुविधा के लिए क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी मनोज तेनगुरिया ने एक रुपए प्रति यात्री किलोमीटर की दर से बांद्राभान मेला स्थल पर आने वाले सवारी वाहनों का किराया निर्धारण किया है।

पार्किंग में कैसे खड़े होंगे वाहन
मेला स्थल के पहले जनपद पंचायत ने चार पहिया वाहनों के लिए पार्र्किंग बनाई है। हालांकि मेले के एक दिन पहले तक भी पार्र्किंग स्थल की सफाई नहीं की गई। वहीं पार्र्किंग स्थल पर रेत के ढ़ेर लगे हुए है। रेत के बीच वाहन पार्क करने वाले वाहन चालकों को इससे परेशानी का सामना करना पड़ेगा।

सड़क पर रेत न बन जाए परेशानी
बांद्राभान जाने वाले रास्ते से रेत के डंपर और ट्रेक्टर-ट्राली भी गुजरते है। इस वजह से पूरे रास्ते में सड़क पर जगह-जगह रेत पड़ी हुई है। प्रशासन ने मेले की तैयारियों के साथ सड़क पर पड़ी रेत की सफाई पर ध्यान नहीं दिया। मेले के दौरान दुपहिया वाहन चालकों के लिए यह रेत परेशानी खड़ी करेगी।

पुलिया पर एक तरफ नहीं लगाए बैरिकेट
बांद्राभान रोड पर पुलिया पर प्रशासन ने एक ओर बैरिकेट लगाए हैं जबकि दूसरी ओर बेरिकेट नहीं लगाए। इस पुलिया पर बांद्राभान मेले के दौरान पहले भी हादसे हो चुके हैं। तीखे मोड़ के बाद बिना बेरिकेट वाली संकरी पुलिया हादसे का कारण बन सकती है।

तय कार्यक्रम से होगा मेला
बांद्राभान मेला में धारा 144 का कोई असर नहीं रहेगा। मेला पूर्व की तरह तय कार्यक्रम अनुसार रहेगा।
शीलेंद्र सिंह, कलेक्टर

poonam soni
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned