scriptNarmada Tire is not only Mayasar but water of nectar even in four year | नर्मदा तीरे ही मयस्सर नहीं चार साल में भी अमृत का जल | Patrika News

नर्मदा तीरे ही मयस्सर नहीं चार साल में भी अमृत का जल

इंटकवेल की एक मोटर खराब, फिल्टर प्लांट का बॉल्व हो रहा बार-बार खराब,शहर में अमृत योजना की नर्मदा जल सप्लाई बीते एक हफ्ते से हो रही प्रभावित,भीषण गर्मी व खपत बढऩे के बाद भी रोजाना 11 एमएलडी ही पानी दिया जा रहा,कई इलाकों पर समय पर नहीं हो रही सप्लाई, पानी की किल्लत से परेशान लोग

होशंगाबाद

Published: April 16, 2022 11:51:06 am

नर्मदापुरम. नर्मदा तीरे ही रहवासियों को 47 करोड़ की अमृत योजना के तहत भीषण गर्मी के मौसम में नर्मदाजल मयस्सर नहीं हो पा रहा है। सर्किट हाउस के पीछे स्थित इंटकवेल की तीन में से एक मोटर खराब है। रिपयेरिंग नहीं हो पाई है। एक बार में एक मोटर से तीन-तीन घंटे बदल-बदलकर कुलामढ़ी स्थित फिल्टर प्लांट तक प्रेशर से पर्याप्त पानी नहीं पहुंच पा रहा। प्लांट के बॉल्व भी बार-बार खराब होने से इलाकों में घरों में नर्मदा जल पर्याप्त नहीं मिल रहा। बीते एक सप्ताह से पानी की किल्लत से लोग परेशान है। सप्लाई समय के दौरान ही बिजली बंद होने से भी टंकियां नहीं भरा पा रही। इस वजह से भी शहर में आधे हिस्से में जलसंकट के हालात पैदा हो गए हैं। हाऊसिंग बोर्ड, मालाखेड़ी, रसूलिया एवं पुराने शहर के भीलपुरा सहित ऊंचाई वाले क्षेत्र में निस्तार व पेयजल की सबसे ज्यादा दिक्कतें हो रही। गर्मी में पानी की खपत बढऩे बाद भी पूर्व की तरह ही रोजाना सुबह-शाम 11 एमएलडी नर्मदा जल ही सप्लाई किया जा रहा, जबकि जरूरत 12-14 एमएलडी तक की है। सुबह-शाम के एक-एक घंटे की सप्लाई समय भी नहीं बढ़ाया गया है। पेयजल वितरण-सप्लाई की समस्या से रहवासियों में आक्रोश बना हुआ है।

नपा के पंप हाउसों के भरोसे अमृत योजना
शहर में नपा के पुराने पंप हाउसों से पानी सप्लाई के भरोसे अमृत योजना चल रही है, जबकि 47.66 करोड़ की इस योजना को शुरू चार साल बीत चुके हैं। यह वर्ष 2017-18 से शुरू हुई थी। हालत ये है कि पूरे शहर में नर्मदा जल नहीं मिल पा रहा। आधा हिस्सा नपा के ट्यूबवेलों और आधा हिस्सा अमृत योजना की टंकियों-लाइनों से पानी वितरण हो रहा, जबकि योजना के तहत 19 से 20 हजार नल कनेक्शन हैं। डाली गई पाईप लाइनें भी गड़बड़ हो रही है। बार-बार काटा-जोड़ा जा रहा। कंपनी की पूरे शहर में सप्लाई चैन चालू नहीं हो सकी है। मुख्य शहर में ही नर्मदा जल की सप्लाई बराबर नहीं है। लाइनें डली भी हैं तो जुड़ी नहीं है। कहीं पर लाइन चोक है तो कहीं पर लीकेज जारी है। अमृत के नर्मदाजल की सप्लाई नपा की टंकियों को जोड़कर हो पा रही।
नर्मदा तीरे ही मयस्सर नहीं चार साल में भी अमृत का जल
नर्मदा तीरे ही मयस्सर नहीं चार साल में भी अमृत का जल
ट्यूबवेल से जोड़कर हो रही जैसे-तैसे सप्लाई
हाऊसिंग बोर्ड में ही एक टंकी योजना की है, लेकिन एक टंकी नपा के साथ मिलकर सप्लाई करनी पड़ रही। मालाखेड़ी में हर्णे कॉलोनी, सदरबाजार की मुख्य टंकी, दशहरा मैदान, भीलपुरा, खोजनपुर टे्रंचिंग ग्राउंड, फेफरताल टंकी से नपा के ट्यूबवेल मिक्स है। मालाखेड़ी, कलेक्टर बंगले के आसपास भी यही स्थिति है।

रोजाना आधा दर्जन शिकायतें आ रही
शहर के विभिन्न इलाकों से नपा के पास रोजाना आधा दर्जन से अधिक शिकायतें पानी नहीं पहुंचने, नहीं मिलने की आ रही है। ज्यादातर शिकायतें अमृत योजना के नर्मदाजल को लेकर बनी हुई है।
हाऊसिंग बोर्ड क्षेत्र में पानी को तरसे लोग
शहर के उप नगर हाऊसिंग बोर्ड और इससे जुड़ी आधा दर्जन कॉोलोनियों में पिछले एक सप्ताह से रहवासी नर्मदा जल के लिए तरस रहे हैं। नपा अपने पंप हाउस से ट्यूबवेल के जरिए पुरानी लाइन से पानी घरों में भेज रही। सुबह-शाम नर्मदा जल नहीं आ रहा है।

नपा से कंपनी को हैंडओवर नहीं हुई योजना
नगरपालिका से कंपनी को अमृत योजना का सिस्टम ही हैंडओवर नहीं हो सका है। लाइन डालने, जोडऩे, नल कनेक्शन देने के छोटे-छोटे काम भी पूरे नहीं हो पा रहे। कई जगह लाइनें उखड़ी पड़ी है। टंकिया अधूरी पड़ी है, जहां टंकियां बन गई वहां भी सप्लाई सुचारू ढंग से नहीं हो पा रही।

इनका कहना है....
अमृत योजना के तहत शहर के सभी वार्डों में नर्मदा जल सप्लाई के छोटे-छोटे काम अधूरे हैं। नपा के ट्यूबवेल-पंप हाउसों से जोड़कर पेयजल वितरित करना पड़ रहा। कंपनी को समय-समय पर नोटिस दिए गए हैं। संचालनालय को भी पत्र भेजकर काम पूरा कराने का आग्रह किया है।
-महेंद्र सिंह तोमर, पेयजल प्रकोष्ठ प्रभारी नपा नर्मदापुरम।

अमृत योजना में रोजाना सुबह-शाम 11 एमएलडी नर्मदा जल की सप्लाई जारी है। कुछ तकनीकी समस्याएं आई थी जिसे ठीक करा लिया गया है। इंटकवेल की एक मोटर खराब है, जिसे सुधवाने भेजा है। लाइन भी बदली जा रही है।
-भूपेश ढोके, इंजीनियर, अमृत योजना ठेकेदार आईएचपी कंपनी
......

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

पंजाब CM भगवंत मान ने स्वास्थ्य मंत्री को भ्रष्टाचार के आरोप में किया बर्खास्त, मामला दर्जकहां रहता है मोस्ट वांटेड दाऊद इब्राहिम? भांजे अलीशाह ने ED के सामने किया खुलासाकांग्रेस की Task Force-2024 और पॉलिटिकल अफेयर्स कमिटी का ऐलान, जानिए सोनिया गांधी ने किन को दिया मौकापाकिस्तान ने भेजी है विषकन्या: राजस्थान इंटेलिजेंस ने सेना को तस्वीरें भेज कर किया अलर्टकुतुब मीनार केसः साकेत कोर्ट में दोनों पक्षों की दलीलें पूरी, 9 जून को अदालत सुनाएगी फैसलाPooja Singhal Case: झारखंड की 6 और बिहार के मुजफ्फरपुर में ED की एक साथ छापेमारी, अहम सुराग मिलने की उम्मीदश्रीलंका में फिर बढ़ी पेट्रोल-डीजल की कीमत, पेट्रोल 420 तो डीजल 400 रुपए प्रति लीटरकर्नाटक के पूर्व सीएम सिद्धारमैया का विवादित बयान, 'मैं हिंदू हूं, चाहूं तो बीफ खा सकता हूं..'
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.