27 करोड़ की नर्मदा जल योजना शुरू आज से घर घर पहुचेगा नर्मदा जल

नपाध्यक्ष ने बटन दबाकर किया योजना का उद्घाटन,22 किमी दूर सांडिया से शहर पहुंचाया नर्मदा जल

By: govind chouhan

Published: 24 May 2018, 08:00 AM IST

पिपरिया. जल आवद्र्धन योजना के तहत गुरुवार से नर्मदा जल नागरिकों के घर-घर पहुंचना शुरू हो जाएगा। लगभग २७ करोड़ की लागत से इस परियोजना को अंतिम रूप दिया गया है। बुधवार को नगरपालिका अध्यक्ष ने पार्षदों की मौजूदगी में नर्मदा जल पेयजल योजना का बटन दबाकर उदघाटन किया। शहर में जल संकट से निपटने लाई गई केंद्र की इस महत्वाकांक्षी योजना का क्रियान्वयन काफी सुस्त रहा। सांडिया से पिपरिया तक करीब २४ किमी की पाइप लाइन डालकर शहर तक पहुंचाया गया है। १८ माह में पूरी होने वाली यह योजना उदासीन रवैये के चलते ६ साल में पूरी हो पाई है। योजना पूरी होने व इसे सुचारू चालू करने के लिए पिछले तीन दिनों से नपा नर्मदा जल सप्लाई की टेस्टिंग कर रही थी जो सफल रही। करीब दो लाख लीटर पानी प्रति घंटे फिल्टर होकर टंकियों में स्टोर होगा जो नलों में सप्लाई होगा।
इस मौके पर नगरपालिका अध्यक्ष राजीव जायसवाल, उपाध्यक्ष राजेन्द्र उपाध्याय, भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष ललिता पुर्विया, पार्षद परवीन बानो, रज्जाक खान, सुरेश गोस्वामी, प्रमिला मण्लोई सहित जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।

50 हजार घरों में पहुंचेगा पानी
तिलक वार्ड स्थित नर्मदा फिल्टर प्लांट में पानी मशीनों से फिल्टर होकर नगरपालिका की ६ पेयजल टंकियों में सप्लाई होगा। यहां से चार मोटरों से पानी की सप्लाई रखी गई है जिनसे लगभग 50 हजार घरों में जलापूर्ति होगी। सांडिया नर्मदा किनारे इंटक वेल तैयार किया गया है जिसमें नदी का पानी स्टोर होकर पिपरिया पाइप लाइन से सप्लाई होगा। फिल्टर प्लांट की क्षमता २ लाख लीटर पानी प्रति घंटे फिल्टर करने की है। पेयजल टंकियों की संख्या भी अभी कम है। बड़ी पेयजल टंकियों का निर्माण होना जरूरी है।

24 से बढ़कर 27 करोड़ हुई लागत
अनुबंध के तहत योजना २०१२ में पूर्ण होना था लेकिन तीन बार नगरपालिका में इसका समय बढ़ा और योजना २०१८ में जाकर उद्घाटित हुई। प्रारंभ में अनुबंध २४ करोड़ की राशि का था बाद में यह बढ़कर २७ करोड़ तक पहुंच गई।

govind chouhan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned