नवरात्र स्पेशल : 1000 फीट ऊंची पहाड़ी पर विराजी यह देवी है मां पार्वती का अवतार, मिलता है सूनी गोद भरने का आर्शीवाद

नवरात्र स्पेशल : 1000 फीट ऊंची पहाड़ी पर विराजी यह देवी है मां पार्वती का अवतार, मिलता है सूनी गोद भरने का आर्शीवाद

Sandeep Nayak | Publish: Oct, 13 2018 03:30:34 PM (IST) | Updated: Oct, 13 2018 03:30:35 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

नवरात्र में प्रतिदिन पांच बार हो रही है आरती

होशंगाबाद। शहर के दूर हरियाली की गोद और 1000 फीट ऊंची पहाड़ी पर विराजमान मां विजयासन भक्तों की हर मुराद पूरी करती हैं। यहां पहुंचने वाली युवतियों को माता मनचाहे जीवनसाथी का आर्शीवाद देतीं हैं तो सूनी गोद को भी भरने का आर्शीवाद यहां से मिलता है। यही कारण है कि यह धाम किसी शक्तिपीठ से कम नहीं है। यहां प्रतिदिन हजारों श्रद्बालु माता के दर्शनों के लिए पहुंचते हैं। पुराणों के अनुसार मां विजयासन माता पार्वती का ही अवतार हैं। देवताओं के आग्रह पर मां ने रक्तबीज नामक राक्षस का वध कर सृष्टी की रक्षा की थी। माता को कई लोग कुलदेवी के रुप में भी पूजते हैं।
पहुंच रहे लाखों भक्त
नवरात्र के दौरान यहां प्रतिदिन बड़ी संख्या में भक्त दर्शन करने के लिए पहुंच रहे हैं। बताया जाता है कि यहां पर प्रतिदिन लाखों भक्त पहुंच रहे हैं। कई किमी. से श्रद्बालु पैदाल चलकर भी पहुंच रहे हैं।

पांच बार आरती
नवरात्र में पांच विशेष आरती सुबह 5.30 बजे, 9.00 सुबह, 11.30 बजे, शाम 7.30 बजे और रात को 12.00 बजे हो रही है। ट्रस्ट अध्यक्ष उपाध्याय ने बताया कि नवरात्र में मातारानी के दर्शन के लिए पहले दिन से ही बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचने लगे हैं।

यह हैं इंतजाम
विजयासन देवीधाम सलकनपुर में इस नवरात्र पर श्रद्धालुओं के लिए विशेष इंतजाम होंगे। भक्तों के लिए नवरात्र में 21 घंटे देवी मंदिर के पट खुले रहेंगे। इन दिनों में मां केवल तीन घंटे रात्रि 12 से 3 बजे तक विश्राम कर रहीं हैं। नवरात्र में मां की पांच बार विशेष आरती की जा रही है। सीढ़ी वाले मार्ग पर श्रद्धालुओं के पीने के पानी का विशेष इंतजाम है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned