पूर्व ओलंपियन अशोक ध्यानचंद बोले-अद्भुत प्रतिभा थी सभी खिलाडिय़ों में

बोले- भविष्य के खिलाड़ी बनते यह युवा, काल ने छीन लिया

होशंगाबाद/शहर में हुए बड़े कार हादसे में एक साथ चार नेशनल हॉकी खिलाडिय़ों की मौत के बाद शहर के हॉकी खिलाड़ी हताश हैं। उनमें गम का माहौल है। हर तरफ चारों खिलाडिय़ों की चर्चा हो रही है। रविवार को प्रतियोगिता में पहुंचे मेजर ध्यानचंद्र के बेटे और पूर्व ओलंपियन और भारतीय टीम के पूर्व कप्तान अशोक ध्यानचंद्र ने सोमवार को हुए इस बड़े हादसे के बाद कहा कि सभी खिलाडिय़ों में अद्भुत प्रतिभा दी। मैं इन सभी खिलाडिय़ों का हौसले को बढ़ाने के लिए ही आज मैच देखने आया था। इनके अंदर मैने भविष्य के टीम इंडिया के खिलाड़ी देखे थे, लेकिन अब यह एक सपना ही रह गया। यह खिलाड़ी देश की टीम में खेलने के योग्य बनते, लेकिन काल ने हमसे प्रतिभावान खिलाड़ी छीन लिए हैं। बता दें कि अशोक ध्यानचंद पहले भी शहर में खिलाडिय़ों का हौंसला बढ़ाने के लिए आ चुके हैं।


घटना के झंझकोर दिया
पूर्व हॉकी खिलाड़ी अशोक ध्यानचंद ने घटना पर दुख होते हुए कहा कि इस घटना ने मुझे झंझकोर दिया है। उन्होंने बताया आदर्ष हरदुआ अपना जन्मदिन मनाने के लिए गया था। उन्होंने बताया कि आदर्श से मेरी बात हुई तो उसने कहा था कि मैं आज 17 साल पूरे कर 18वें साल में प्रवेश कर गया हूं सर। लेकिन अगले सुबह ही उसकी मौत हो गई। वहीं, शहनावाज ने पांच दिन पहले ही एकडेमी ज्वाइन की थी। जबकि वरुण और अनिकेत का इंडिया जूनियर लेवल पर भी चयन हो गया है। उन्होंने बताया कि कमेटी ने मुझे यहां फाइनल देखने के लिए बुलाया था। अनिकेत, वरुण और आदर्श अपने घर के इकलौते बेटे थे।

इंश्योरेंस कराया
होशंगाबाद अधिकारियों के अनुसार मृत खिलाडिय़ों का विभाग ने इंश्योरेंश भी करवाया था, इंश्योरेंस के तहत पांच-पांच लाख की राशि रिकवर होनी है। ताकि उनके परिवारवालों को आर्थिक रूप से राहत मिल सके। वहीं शासन की ओर से आर्थिक मदद भी दी जाएगी। इसके लिए प्रभारी मंत्री ने कहा कि मृतकों का जाना हमारे लिए बड़ी छाति है। मामले में कलेक्टर और एसपी से भी बात की गई है। उन्होंने कहा कि जो भी प्रावधान होगा उसके अनुसार मृतकों के लिए आर्थिक मदद दी जाएगी।

इधर, आयोजन समिति ने मांगा 25-25 लाख का मुआवजा
दर्दनाक हादसे के बाद चार परिवारों ने अपने चार होनहार चिराग खो दिए हैं इस छति की पूर्ति कर पाना संभव नहीं होगा। वहीं हादसे के बाद मृतकों के परिजनों और आयोजन समिति ने हर हादसे के मृतक परिवार को 25-25 लाख रुपये सहायता की मांग की है। ताकि उन्हे आर्थिक मदद मिल सके।

जिला प्रशासन ने मृतकों को 25 हजार और घायलों को 15 हजार रूपये सहायता देने का किया एलान एडीएम के डी त्रिपाठी ने बताया कि हिट एंड रन के तहत ये सहायता राशि दी जा रही है।

Show More
sandeep nayak
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned