scriptonion prices latest news onion prices on rise again reach | फिर रुलाने लगी प्याज, जानें यह है कारण | Patrika News

फिर रुलाने लगी प्याज, जानें यह है कारण

पिछले साल थोक में 12-14 रुपए किलो बिकी प्याज अब 25-26 रुपए में बिक रही

होशंगाबाद

Published: January 15, 2022 12:36:20 am

होशंगाबाद। सर्द मौसम और बदल छाने का असर हरी सब्जियों की आवक पर दिखने लगा है। 30-40 रुपए किलो मिल रही सब्जियों के दाम अब 50 से 60 रुपए किलो हो गए हैं। व्यापारी एवं विक्रेता दाम बढऩे का कारण फसल की पैदावार में कमी और आवक अच्छी नहीं होना बता रहे। स्थानीय सब्जियां भी शहर के बाजार में नहीं आ रहीं, बल्कि थोक में इसे बाहर भेजा जा रहा है। इन दिनों शहर की थोक सब्जी मंडी व फुटकर बाजार में खंडवा की प्याज बिक रही है। प्याज में नमी के कारण आवक में कमी और दाम में उछाल है। फुटकर में 25-26 रुपए किलो एवं फुटकर में 40-50 रुपए है। लोकल में प्याज की पैदावार नहीं होने से भी दाम में बढ़ोतरी हुई है।

फिर रुलाने लगी प्याज, जानें यह है कारण
फिर रुलाने लगी प्याज, जानें यह है कारण
यूपी-करनावत का बिक रहा आलू
स्थानीय बाजार में आलू भी यूपी और करनावत से आ रहा है। ट्रांसपोर्टिंग खर्च के कारण इसके दाम भी बढ़ गए हैं। शुक्रवार को मंडी में थोक में आलू नया 15 रुपए किलो एवं यूपी का 12 रुपए किलो में व्यापारियों ने बेचा। जबकि पिछले साल व सीजन में यही आलू थोक में 8-10 रुपए किलो में बिका था। फुटकर में अभी इसके दाम 30-40 रुपए किलो चल रहे। फुटकर बाजार में शुक्रवार को टमाटर 20 रुपए किलो बिका, जबकि थोक में मंडी में इसके दाम 11 रुपए किलो यानी 20-22 किलो की एक क्रेट 250 रुपए में बेची गई। विक्रेताओं ने बताया कि बीते माह में टमाटर के दाम ज्यादा थे, चालू माह में इसके दाम में गिरावट आई है।

हरी सब्जियां 15 से 20 रुपए पाव चल रही
शहर के सब्जी मार्केट व फुटकर में हरी सब्जियों के दाम आसमान छू रहे। कोई भी सब्जी 15 से 20 रुपए पाव से कम में नहीं मिल रही। थोक की तुलना में फुटकर में इनके दाम डेढ़ से दो गुना हो गए हैं। थोक में बैंगन 10 रुपए किलो, हरी मिर्ची 35 रुपए किलो, शिमला मिर्ची 30 रुपए किलो में बिक रही ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.