14 कोच वाली इस ट्रेन में केवल 50 यात्रियों ने किया सफर, जानें क्यों

पैसेंजर से एक्सप्रेस बनी इटारसी- प्रयागराज, प्रचार और एप में नहीं दिखने से यात्रियों को नहीं मिली जानकारी

By: sandeep nayak

Published: 23 Jan 2021, 12:36 PM IST

इटारसी/लॉकडाउन के 10 माह बाद इटारसी से प्रयागराज इलाहाबाद के लिए शुक्रवार से पैसेंजर के बजाए पहली एक्सप्रेस ट्रेन शुरू हुई। प्रतिदिन चलने वाली इस 14 कोच वाली ट्रेन में पहले दिन लगभग 50 यात्रियों ने सफर शुरू किया। इस अवसर पर ट्रेन के चालक एवं परिचालक का पुष्प मालाओं से सम्मान किया गया। यह ट्रेन प्रतिदिन इटारसी से तीर्थराज प्रयाग के लिए जाएगी और फिर तीर्थराज प्रयाग से इटारसी आएगी। पहले दिन ट्रेन में यात्री कम होने की वजह रेलवे के एप में ट्रेन का उल्लेख ना होना और प्रचार ना होना बताया गया। वरिष्ठ यांत्रिक इंजीनियर गजेंद्र मीणा ने बताया कि रेलवे मंत्रालय ने इटारसी से प्रयागराज सवारी ट्रेन को एक्सप्रेस में कन्वर्ट कर दिया।

इटारसी से चलने वाली पहली एक्सप्रेस ट्रेन
उन्होंने बताया कि कोराना के बाद इटारसी से शुरू होने वाली यह पहली एक्सप्रेस ट्रेन है। हालांकि इसके 43 स्टेशनों पर स्टॉपेज है। पर स्पीड बढऩे से यह 17 घंटे में इटारसी से जबलपुर, कटनी, सतना होकर सुबह 10 बजे प्रयागराज पहुंचेगी। 23 जनवरी को प्रयागराज से इटारसी के लिए चलेगी। इसका मेंटेनेंस इटारसी का स्टॉफ ही करेगा। एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रेलवे सलाहकार समिति सदस्य दीपक अग्रवाल ने प्लेटफॉर्म 4 से रवाना किया। दीपक ने बताया कि एक्सप्रेस ट्रेन के चालू होने से नागरिकों को बड़ी सुविधा मिलेगी। पीएम नरेंद्र मोदी, रेल मंत्री पीयूष गोयल, और सांसद राव उदय प्रताप सिंह के प्रयासों से यह सौगात मिल रही है। इस मौके पर भाजपा नेता संदेश पुरोहित, मंडल अध्यक्ष जोगिंदर सिंह, यज्ञदत्त गौर समेत स्टेशन प्रबंधक एसके जैन, वरिष्ठ यांत्रिक इंजीनियर गजेंद्र मीणा आदि उपस्थित रहे।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned