scriptPlant ready in Hoshangabad-Itarsi, patients will get 2320 liters of ox | होशंगाबाद-इटारसी में प्लांट तैयार, मरीजों को मिलेगी हर मिनट २३२० लीटर ऑक्सीजन | Patrika News

होशंगाबाद-इटारसी में प्लांट तैयार, मरीजों को मिलेगी हर मिनट २३२० लीटर ऑक्सीजन

कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने किया ऑक्सीजन प्लांट की मॉक ड्रिल का निरीक्षण

होशंगाबाद

Published: December 07, 2021 08:53:10 pm

होशंगाबाद
कोरोना के तीसरी लहर की आशंका के चलते सवास्थ्य सुविधाओं को चाक चौबंध किया जा रहा है। जिला अस्पताल और इटारसी के सरकारी डा. श्यामाप्रसाद मुखर्जी अस्पताल में दो ऑक्सीजन प्लांट लगाए गए हैं। जिनसे यहां आने वाले मरीजों को २ हजार ३२० लीटर ऑक्सीजन हर मिनट उपलब्ध कराया जा सकेगा। कलेक्टर नीरज कुमार सिंह और पुलिस अधीक्षक डा. गुरुकरण सिंह ने जिला अस्पताल और इटारसी के सरकारी डा. श्यामाप्रसाद मुखर्जी अस्पताल के ऑक्सीजन प्लांट का बुधवार को निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अस्पताल में मौजूद स्वास्थ्य सुविधाओं का जायजा लिया। इसके बाद वार्ड में भर्ती मरीजों का हाल चाल जाना और स्वास्थ्य सेवाओं की नब्ज टटोली। निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने कहा कि कोविड की तीसरी लहर की आशंका के दृष्टिगत जिले के समस्त पीएसए प्लांट्स की क्रियाशीलता सुनिश्चित की जाए। जिससे आवश्यकता पडऩे पर प्लांट के माध्यम से रोगियों को निर्बाध ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके। जिला अस्पताल में १७५० और इटारसी में ५७० एलपीएम क्षमता- जिला अस्पताल होशंगाबाद में ७५० और १ हजार एलपीएम क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट से ऑक्सीजन निर्माण का बुधवार को कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने जिला अस्पताल पहुंचकर ऑक्सीजन निर्माण की मॉक ड्रिल का निरीक्षण किया। खास बात यह भी है कि जिला अस्पताल में मौजूद ७५० एमपीएम क्षमता के प्लांट का इलेक्ट्रानिक मीटर दो दिन से खराब पड़ा है। जिसे दुरुस्त करने के लिए अस्पताल प्रबंधन ने एजेंसी को सूचित किया है। इसके बाद इटारसी अस्पताल में 570 एलपीएम के ऑक्सीजन प्लांट का भी निरीक्षण किया। इटारसी अस्पताल के नवीन भवन, कोविड आईसीयू वार्ड, ऑपरेशन वार्ड आदि वार्डो में स्वास्थ्य सुविधाओं का भी जायजा लिया और कोविड की तीसरी लहर की आशंका के दृष्टिगत अस्पताल में समुचित व्यवस्थाएं किए जाने के निर्देश अस्पताल अधीक्षक को दिए। मरीज से कलेक्टर ने पूछा- इलाज मिल रहा या नहीं... इटारसी के सरकारी अस्पताल का निरीक्षण करने के दौरान मेडिकल वार्ड पहुंचे कलेक्टर ने यहां भर्ती मेहरागांव के एक मरीज से पूछा- क्या हो गया। मरीज बोला- बीपी, शुगर की तकलीफ है। कलेक्टर बोले- इलाज मिल रहा या नहीं...जबाव मिला। हां मिल रहा है। सब कुछ ठीक है। शुद्धता की जांच, लीकेज पर नजर- सिविल सर्जन डॉ दिनेश देहलवार ने मॉक ड्रिल की प्रक्रिया के बारे बताया कि सभी पीएसए प्लांट्स सुबह 9 बजे से चालू किए गए। प्रत्येक प्लांट 6 घंटे के लिए चालू रखा गया। प्लांट चालू करने के बाद हर दो घंटे में ऑक्सीजन की शुद्धता रिकॉर्ड की गई। डॉ देहलवार ने बताया कि प्लांट्स के ऑक्सीजन प्यूरिटी 93.3 प्रतिशत होना आवश्यक है। इससे कम प्योरिटी होने पर संबंधित प्लांट्स की उत्पादनकर्ता एजेंसी के सर्विस इंजीनियर से संपर्क कर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर ने निर्देशित किया कि प्लांट्स के आउटलेट से लेकर मैनिफोल्ड तक एवं मैनिफोल्ड से बेड्स तक की ऑक्सीजन पाइपलाइन में लीकेज तो नहीं हैं, यह भी चेक किया जाए। लीकेज की स्थिति में जिले के उपयंत्री, संभागीय अभियंता एवं संभागीय बायो मेडिकल इंजीनियर से समन्वय स्थापित कर तत्काल सुधार कार्य प्रारंभ किया जाए।
Plant ready in Hoshangabad-Itarsi, patients will get 2320 liters of oxygen every minute

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.