राजा को जेल, संजीव को पुलिस रिमांड, जानें क्या है मामला

राजा को जेल, संजीव को पुलिस रिमांड, जानें क्या है मामला

Sandeep Nayak | Publish: Aug, 13 2019 11:58:44 AM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

फर्जी रजिस्ट्री के मामला, रिमांड में खुलेंगे राज

इटारसी। फर्जी रजिस्ट्री मामले में आरोपी नगर पालिका के सहायक राजस्व निरीक्षक संजीव श्रीवास्तव और सर्विस प्रोवाइडर राजा शेफी के लिए सोमवार को न्यायालय में पेश किया गया। न्यायाधीश देवेश उपाध्याय ने राजा को न्यायिक रिमांड पर जेल भेजा है जबकि संजीव श्रीवास्तव से पूछताछ के लिए पुलिस को दो दिन की पुलिस रिमांड दी है। न्यास कॉलोनी प्रियदर्शनी नगर में सार्वजनिक उपयोग की जमीन को प्लॉट बताकर बेचने में पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी है।

घर से मिले दस्तावेज
सोमवार सुबह संजीव श्रीवास्तव और राजा शेफी को हथकड़ी में घर ले जाया गया। यहां संजीव श्रीवास्तव ने घर की आलमारी में रखे दस्तावेज बरामद कराए। साथ में कुछ फाइलें मिली हैं। इसमें केस संबंधित फाइलों के अलावा अन्य फाइलों की जांच भी जाएगी। इधर, राजा शेफी के घर से भी दस्तावेज बरामद हुए हैं। अब नगर पालिका में भी एक आलमारी है जिसमें ताला लगा हुआ है इसे भी खुलवाया जाएगा।

 

तत्कालीन सीएमओ, उप रजिस्ट्रार भी घेरे में
- सीएमओ हरिओम वर्मा का कहना है कि तत्कालीन सीएमओ की इसमें भूमिका है। शासन को जांच प्रतिवेदन भेजा है शासन द्वारा आगे की कार्रवाई की जाएगी। बुंदेला इसलिए घेरे में है क्योंकि नपा के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपलब्ध होने के बाद भी एआरआई संजीव श्रीवास्तव को हस्ताक्षर के अधिकार क्यों दिए। इसके अलावा जैसा बुंदेला पहले बता चुके है कि उन्हें पता चलने पर इस डीड को रद्द करने के आदेश दिए थे लेकिन इतनी बड़ी गड़बड़ी के लिए संजीव श्रीवास्तव के खिलाफ उसी समय कार्यवाही क्यों नहीं की और आदेश दिए थे तो उसका पालन क्यों नहीं करवाया।

 

- उप पंजीयक आनंद पांडे की भूमिका भी संदिग्ध है क्योंकि उप पंजीयक की जिम्मेदारी है कि वह मौके पर जाकर सत्यापन करे। खास बात यह भी है कि उप पंजीयक एक बार यह बयान दे चुके हैं कि उन्हें पता चला था तो उन्होंने श्रीवास्तव को रोका था लेकिन संजीव श्रीवास्तव ने दस्तावेज में टेंपरिंग करके इसमें नक्शे में नया प्लॉट बना दिया और यह रजिस्ट्री कराई। जब पांडे को पता था कि फर्जीवाड़ा हुआ है तो फिर रजिस्ट्री की गई।

सोमवार को न्यायालय में पेश किया गया था जहां से राजा शेफी को न्यायिक हिरासत में जेल और संजीव श्रीवास्तव को 14 अगस्त तक पुलिस रिमांड पर भेजा गया।
एचके शुक्ला, जांच अधिकारी इटारसी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned