raksha bandhan special : पांच प्रकार की मिट्टी से बनाई और अनाज के दानों से सजी राखियां चमकेंगी कलाइयों पर

रेलवे कर्मचारी के परिवार ने बनाई राखियां अब नि:शुल्क बांट रहे

By: sandeep nayak

Published: 02 Aug 2020, 11:47 AM IST

इटारसी/ कोरोना काल में हर कोई अपने हिसाब से लोगों के चेहरों पर खुशी लाने का प्रयास कर रहा है। ऐसे में ही इटारसी के डिप्टी स्टेशन मैनेजर विनोद चौधरी बहिनों और महिलाओं के लिए नि:शुल्क राखी बांट रहे हैं। यह राखियां पूरी तरह मिट्टी और घरेलू सामग्रियों से बनी हैं। विनोद ने कहा कि उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी के लोकल से वोकल अभियान से प्रेरित होकर यह राखियां बनाई है।
विनोद ने मुस्कान संस्था सहित शहर के आधा दर्जन मोहल्लों में गरीबों के लिए यह राखियां बांटी हैं।
उन्होंने बताया कि राखियां 5 प्रकार की मिट्टी से बनाई हैं। इसमें काली, खडिय़ा, गेरू, रामरच और मुलतानी मिट्टी का उपयोग किया गया है। इनमें रंग की जगह सजाने के लिए अनाज, मूंग, दालें, उड़द, अलसी, साबूदाना, लौैंग, इलाइची, राई, मेथी का उपयोग किया गया है। सपोर्ट के लिए मोटा कागज और हाथों में बांधने के लिए कोसम का कच्चा नाड़ा व कलेवा लगाया है। इन राखियों को बनाने में गोपाल कुशवाहा, अर्चना चौधरी, अनुष्का, राशि, आयुष चौधरी, बीरबल सिंह आदि का सहयोग मिला है। विनोद ने बताया कि यह राखियां पूरी तरह इकोफ्रेंडली हैं। सिंगल यूज प्लास्टिक से बचाव का यह सबसे अच्छा माध्यम है।

10 साल से कर रहे काम
विनोद का कहना है कि उन्होंने करीब 1001 राखियां बनाई हैं। अपने रेलकर्मी साथियों सहित गरीब बच्चों को नि:शुल्क बांटी हैं। गौरतलब है कि विनोद ने स्वयं पानी बचाओ रेल कर्मचारी संस्था बनाई है, जो 10 साल से पेड़ लगाने, पानी बचाने, पक्षियों के लिए सकोरे- घोसले बनाने का काम कर रही हैं। विनोद के इस काम की रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों सहित शहर के सभी लोगों ने सराहना की है।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned