बंगलुरु से पहुंचे आर्मी के दो जवान, रातभर मेडिकल टेस्ट के लिए करते रहे इंतजार

Corona test
रात में जिला अस्पताल के डाॅक्टर्स ने जांच नहीं किया, सुबह होने का हवाला देकर टरकाते रहे

होशंगाबाद। कोरोना से बचाव के लिए एकतरफ यात्रा विवरण न छिपाने व जांच की सलाह दी जा रही है, वहीं जागरुक लोग जब स्वेच्छा से जांच को आ रहे तो उनको घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। होशंगाबाद जिला अस्पताल में बंगलुरु से पहुंचे सेना के रिटायर्ड दो जवान जांच के लिए रातभर इंतजार करते रहे। रात में किसी डाॅक्टर द्वारा अटेंड नहीं किए जाने के बाद सुबह भी यह दोनों जवान अस्पताल में जांच के लिए जमे हुए थे।

Read this also: बहनों ने दी भाई केे अर्थी को कंधा, छोटी बहन ने दी मुखाग्नि

होशंगाबाद के रहने वाले नंदन सिंह राव व जितेंद्र कुमार बीते 31 मार्च को सेना से रिटायर हुए। दोनों जवान बंगलुरु से होशंगाबाद मंगलवार को पहुंचे। बंगलुरु से होशंगाबाद आने की अनुमति के बाद इन दोनों जवानों ने वहां भी आवश्यक जांच कराया। जांच के बाद वहां डाॅक्टर्स ने होशंगाबाद पहुंचने के बाद आवश्यक जांच कराने के बाद ही घर जाने की सलाह दी। देश के अनुशासित सिपाहियों ने अपनी जागरुकता का परिचय देते हुए होशंगाबाद पहुंचने के बाद सीधे जिला अस्पताल पहुंचे। लेकिन यहां देर रात तक कोई डाॅक्टर इनकी जांच नहीं किया। देर रात में बताया गया कि सुबह ही जांच हो सकेगी। दोनों ने अस्पताल में इंतजार करने का निर्णय लिया।
बुधवार को सुबह भी ये दोनों जवान मेडिकल टेस्ट के लिए बारी आने का इंतजार कर रहे थे।

Read this also: जिला अस्पताल से 11 संदिग्ध लापता, कोरोना जांच के लिए सैंपल भी नहीं दिया

coronavirus
धीरेन्द्र विक्रमादित्य
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned