scriptSand mafia stone pelting. Big district, only two soldiers | रेत माफिया की पत्थरबाजी. इतना बड़ा जिला, खनिज अमले के पास मात्र दो सैनिक, कैसे होगी धरपकड़ और खदानों की सुरक्षा | Patrika News

रेत माफिया की पत्थरबाजी. इतना बड़ा जिला, खनिज अमले के पास मात्र दो सैनिक, कैसे होगी धरपकड़ और खदानों की सुरक्षा

-खनिज अधिकारी पर हुए जानलेवा हमले के आरोपी दूसरे दिन भी नहीं पकड़ाए
-कलेक्टर ने दिए जिले में अवैध खनन-परिवहन पर सख्त कार्रवाइयों के निर्देश
-जिले में धरपकड़ के लिए बनेगी राजस्व-खनिज और पुलिस की संयुक्त टीमें

होशंगाबाद

Published: December 18, 2021 12:02:48 pm

होशंगाबाद. प्रदेश में सबसे अधिक रेत व्यवसाय एवं 118 खदानों वाले होशंगाबाद जिले के खनिज विभाग के हाल ठीक नहीं है। खदानों की सर्चिंग, अवैध खनन-परिवहन को रोकने, रेत चोरों और इनके वाहनों की धरपकड़ के लिए सुरक्षा के नाम पर मात्र दो होमगार्ड सैनिक ही उपलब्ध है। बुलाने पर ही पुलिस का फोर्स मिलता है। ऐसे में जिले की करोड़ों-अरबों की रेत खदानों की सुरक्षा कैसे हो यह बड़ा सवाल है। चार सैनिकों को रेत नाकों पर तैनात कर रखा है। खनिज अधिकारी फोर्स की कमी से जूझ रहे। जिले में रेत माफिया व्दारा पत्थरबाजी की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है। बीती देर शाम को इटारसी के पाहनवर्री में तवा नदी से रेत चोरी कर टै्रक्टर-ट्रॉली छुड़ाने के लिए रेत माफिया का एक दर्जन से अधिक लोगों ने पत्थरों से हमला कर दिया। जिसमें खनिज अधिकारी शशांक शुक्ला तो बाल-बाल बच गए, लेकिन उनकी सरकारी गाड़ी के कांच फूट गए। थाना रामपुर गुर्रा में उन्होंने नामजद रिपोर्ट दर्ज करवाई, लेकिन पुलिस दूसरे दिन शुक्रवार देर शाम तक हमलवारों को गिरफ्तार नहीं कर पाई थी। जिला स्तर के विभागीय अधिकारी पर हुए हमले के बाद कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने सख्त रूख अख्तियार किया है। उन्होंने जिले भर में विशेष मुहिम चलाकर रेत के अवैध खनन-परिवहन को सख्ती से रोकने एवं अवैध कारोबारियों, परिवहन कर्ताओं के वाहनों की धरपकड़ कर केस दर्ज करने के निर्देश दिए हैं। प्रशासनिक सूत्रों की मानें तो जल्द ही जिले में राजस्व, खनिज और पुलिस की संयुक्त टीमें गठित होंगी। इन टीमों के जरिए जिले की सातों तहसीलों में नर्मदा-तवा नदी सहित अन्य सहायक नदियों में हो रहे अवैध खनन-परिवहन को रोककर कार्रवाइयां की जाएगी। बता दें कि इसके पहले भी रेत ठेका कंपनी आरकेटीसी के फ्लाइंग स्क्वॉड पर पांच बार हमले-मारपीट की घटनाएं हो चुकी है। रेत माफिया अब खनिज विभाग के अधिकारियों पर भी हमले कर रहा है।

चारों तरफ से घिर गए थे खनिज अधिकारी
बताया जाता है कि खनिज अधिकारी शुक्ला पाहनवर्री में तवा नदी के रास्ते पर चारों तरफ से अंधेरे में घिर गए थे। रेत माफिया के लोगों ने उनकी गाड़ी पर पत्थरबाजी की। जिससे गाड़ी के कांच फूट गए। गाड़ी के अंदर छुपकर खनिज अधिकारी ने जैसे-तैसे अपनी जान बचाई। यह स्थिति फोर्स की कमी के कारण भी हुई। अगर पुलिस, होमगार्ड की पर्याप्त फोर्स साथ में होती तो शायद इस हमले को रोका जा सकता था। हमलावर अवैध रेत से भरी टै्रक्टर-ट्रॉली को छुड़ाकर ले जाने में सफल हो गए।

मीनाक्षी चौक से पकड़ी एक टै्रक्टर-ट्रॉली
दूसरे दिन शुक्रवार को खनिज निरीक्षक की टीम ने मीनाक्षी चौक से अवैध रेत से भरी सिल्वर कलर की बिना नंबर की टै्रक्टर-ट्रॉली को पकड़कर जब्त किया है। खनिज निरीक्षक पिंकी चौहान ने बताया कि उक्त वाहन में बिना किसी रायल्टी के रेत भरी हुई थी। वैध दस्तावेज भी नहीं पाए गए। वाहन को जब्त कर मंडी परिसर में खड़े कराया गया है। वाहन चालक के खिलाफ अवैध रेत के परिवहन का प्रकरण बनाया जा रहा है। हाल के नए नियम के तहत जब्त वाहन को राजसात किए जाने का भी प्रावधान है।
रेत माफिया की पत्थरबाजी. इतना बड़ा जिला, खनिज अमले के पास मात्र दो सैनिक, कैसे होगी धरपकड़ और खदानों की सुरक्षा
रेत माफिया की पत्थरबाजी. इतना बड़ा जिला, खनिज अमले के पास मात्र दो सैनिक, कैसे होगी धरपकड़ और खदानों की सुरक्षा
ठेके की खदानें बंद होने से हावी हुआ रेत माफिया
जिले में ठेके की 118 रेत खदानों के दो माह से बंद रहने एवं ठेकेदार कंपनी व्दार खदानों को घाटे के कारण सरेंडर करने के बाद से रेत माफिया हावी हो गए हैं। नर्मदा एवं तवा नदी सहित सहायक नदियों के तटों से रात के अंधेरे में टै्रक्टर-्रट्रॉलियों से रेत की बड़े पैमाने पर चोरी हो रही है। अवैध कारोबारी बैखोफ होकर रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन कर रहे।

इन आरोपियों पर हुआ केस दर्ज
थाना रामपुर गुर्रा पुलिस ने जिला खनिज अधिकारी शशांक शुक्ला की रिपोर्ट पर घटना में लिप्त आरोपीगण पाहनवर्री के पवन पाल, शुभम् पाल निवासी कांदईकला, भाईजी पाल निवासी रंढाल, काशीराम निवासी कांदईकला सहित अन्य के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है। आरोपीगण हमले के बाद से ही फरार हो गए। पुलिस इन्हें शनिवार सुबह तक भी पकड़ नहीं पाई थी।

अंधेरे का उठाया फायदा, बरसाए पत्थर
खनिज अधिकारी शुक्ला ने बताया कि वह पाहनवर्री तवा नदी के तट के पास रास्ते पर जैसे ही पहुंचे तो सामने से एक रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली तेजी से आ रही थी। उसे हाथ देकर रोकने की कोशिश की तो चालक ने और तेजी से वाहन को निकालने की कोशिश की। पीछा कर जब ट्रैक्टर-ट्रॉली को जब्त कर थाना रामपुर गुर्रा ले जाने लगे तो इसी बीच अंधेरे का फायदा उठाकर करीब एक दर्जन लोग अचानक उनके वाहन पर लपके और पत्थर बरसाने लगे। पत्थरों के लगने के गाड़ी के कांच फूट गए। उन्होंने जैसे-तैसे पत्थरों के हमले से बचते हुए खुद को बचाया।

सूचना के बाद मौके पर पहुंचे थे अधिकारी
खनिज अधिकारी पर हुए हमले की सूचना जैसे ही आग की तरह फैली इटारसी से एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी, एसडीओपी एमके मालवीय सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा। कुछ ग्रामीणों ने अधिकारियों को बताया कि यहां पिछले दो माह से रेत माफिया सक्रिय हैं और उनके लोग यहां लाठी-डंडे दिखाकर विरोध करने वाले ग्रामीणों को धमका रहे और रेत की अवैध रूप से चोरी कर ले जा रहे हैं। बता दें कि जिले में जब से ठेके की खदानें संचालित हो रही, तभी से रेत माफिया के हमले लगातार जारी है।

इन तटों पर जारी है अवैध उत्खनन-परिवहन
बता दें कि जिले के जिला-संभागीय मुख्यालय पर ही डोंगरवाड़ा, खोजनपुर, करबला घाट, नर्मदा पुल के आसपास, बांद्राभान-रायपुर, मगरिया, सांगाखेड़ा पुल, बाबई, सोहागपुर, पिपरिया, बनखेड़ी, डोलरिया, सिवनीमालवा, शिवपुर सहित सीहोर जिले की सीमा में नर्मदा व तवा नदी से अवैध उत्खनन-परिवहन जमकर हो रहा है। रेत माफियाओं ने अब अधिकारियों व उनके वाहन पर भी हमले शुरु कर दिए हैं। रेत माफियाओं ने कई तटों पर पहुंच रास्ते भी बना लिए हैं। जिनके जरिए अवैध खनन कर टै्रक्टर-ट्रॉलियां निकाली जा रही है।

जल्द ही होगी आरोपियों की गिरफ्तारियां
थाना रामपुर गुर्रा के प्रभारी मानवेंद्र सिंह भदौरिया ने बताया कि खनिज अधिकारी शशांक शुक्ला की रिपोर्ट पर आरोपियों पर नामजद प्रकरण दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी। आरोपियों की तलाश के लिए पाहनवर्री सहित अन्य स्थानों पर टीमें भेजी गई है।

मालाखेड़ी तिराहे पर वाहन के चालक ने टक्कर मारी, युवक घायल
होशंगाबाद. शहर के मालाखेड़ी चक्कर रोड तिराहे पर सेमेरिटंस स्कूल के पीछे बेलोरो वाहन के चालक ने तेजी व लापरवाही से वाहन चलाकर मालाखेड़ी निवासी धनराज वौरासी को टक्कर मारकर घायल कर दिया। युवक की हालत गंभीर होने पर उसे जिला अस्पताल ले जाकर पुलिस ने उपचार के लिए भर्ती कराया। देहात थाना ने आरोपी वाहन चालक पर एक्सीडेंट का प्रकरण दर्ज किया है। पुलिस ने बताया कि 16 दिसंबर की रात साढ़े आठ बजे के करीब सेमेरिटंस स्कूल के पीछे बोलेरो वाहन एमपी09 सीआर 5043 के चालक ने तेजी व लापरवाही से वाहन चलाकर चक्कर रोड मालाखेड़ी निवासी धनराज बौरासी को टक्कर मार दी थी, जिससे वह घायल हुआ है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Health Tips: रोजाना बादाम खाने के कई फायदे , जानिए इसे खाने का सही तरीकाCash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कतSchool Holidays in January 2022: साल के पहले महीने में इतने दिन बंद रहेंगे स्कूल, जानिए कितनी छुट्टियां हैं पूरे सालVideo: राजस्थान में 28 जनवरी तक शीतलहर का पहरा, तीखे होंगे सर्दी के तेवर, गिरेगा तापमानJhalawar News : ऐसा क्या हुआ कि गुस्से में प्रधानाचार्य ने चबाया व्याख्याता का पंजामां लक्ष्मी का रूप मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां, चमका देती हैं ससुराल वालों की किस्मतAaj Ka Rashifal - 24 January 2022: कुंभ राशि वालों की व्यापारिक उन्नति होगीMaruti की इस सस्ती 7-सीटर कार के दीवाने हुएं लोग, कंपनी ने बेच दी 1 लाख से ज्यादा यूनिट्स, कीमत 4.53 लाख रुपये

बड़ी खबरें

Punjab Election 2022: गठबंधन के तहत BJP 65 सीटों पर लड़ेगी चुनाव, जानिए कैप्टन की PLC और ढींढसा को क्या मिलाराष्ट्रीय वीरता पुरस्कार के विजेताओं से पीएम मोदी ने किया संवाद, 'वोकल फॉर लोकल' के लिए मांगी बच्चों की मददब्रेंडन टेलर का खुलासा, इंडियन बिजनेसमैन ने किया ब्लैकमेल; लेनी पड़ी ड्रग्ससंसद में फिर फूटा कोरोना बम, बजट सत्र से पहले सभापति नायडू समेत अब तक 875 कर्मचारी संक्रमितकर्नाटक में कोविड के 50 हजार नए मामले आने के बाद भी सरकार ने हटाया वीकेंड कर्फ्यू, जानिए क्या बोले सीएमसीएम योगी की जीत के लिए उज्जैन के श्मशान में हुई तंत्र साधना, बोले बाबा बमबमनाथ योगी का आना ज़रूरीगणतंत्र दिवस के ठीक बाद Tata ग्रुप की हो जाएगी एयर इंडियाICC Awards: शाहीन अफरीदी बने क्रिकेटर ऑफ द ईयर, पाकिस्तान के 3 खिलाड़ियों ने मारी बाजी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.