कंप्यूटर बाबा के रेत खदानों पर छापे मारने के दूसरे दिन प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई, पकड़े 36 डंपर

खनिज पुलिस व राजस्व विभाग की टीम ने की कार्रवाई

By: sandeep nayak

Published: 03 Jan 2020, 01:30 PM IST

होशंगाबाद/ कंप्यूटर बाबा ने गुरुवार को रेत खदानों पर छापामार कार्रवाई की थी। लेकिन सूचना लीक होने के बाद उन्हे खाली हाथ लौटना पड़ा था, जिस पर उन्होंने अफसरों पर इस बात को लेकर नाराजगी जाहिर की थी। इसके बाद शुक्रवार सुबह से प्रशासन ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए कई जगह से करीब 36 डंपर जब्त किए हैं। इनमें 34 रेत के डंपर और 2 गिट्टी के डंपर थे। इनको पकड़कर पुलिस लाइन के पीछे खड़े करवाया गया है।


विभिन्न जगहों से पकड़े डंपर
बताया जाता है कि यह सभी डंपर विभिन्न जगहों से पकड़े गए हैं। भोपाल तिराहा, होरियापिपर रोड, बाबई रोड, पंजराकला रोड, इटारसी रोड, होशंगाबाद बाईपास, डबल फाटक रोड, भोपाल तिराहा से पकड़े गए डंपर। जिन्हे पुलिस लाइन के पीछे खड़े हैं। उक्त कार्रवाई खनिज पुलिस व राजस्व विभाग की टीम ने की। इस दौरान एसडीओपी मोहन सारवान, जिला खनिज अधिकारी महेंद्र पटेल, खनिज निरीक्षक, अर्चना ताम्रकार, तहसीलदार, नायब तहसीलदार सहित पुलिस टीम, होमगार्ड सैनिक आदि के द्वारा रातभर की गई सर्चिंग।


अधिकारियों से बोले- रेत माफिया को एक तगाड़ी रेत भी नहीं उठाने दें
गुरुवार दोपहर में कंप्यूटर बाबा ने कलेक्टे्रट सभाकक्ष में अधिकारियों के साथ बैठक की थी। कलेक्टर-एसपी को निर्देश दिए कि रेत माफिया को नदियों से एक भी तगाड़ी रेत नहीं उठाने दें। जो भी अवैध खनन करता मिले, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। नर्मदा ब्रिज के नीचे अवैध खनन करने वाले माखन कीर के खिलाफ कलेक्टर-एसपी को सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। अधिकारियों ने बताया कि डेढ़ माह में तीन-चार बार कार्रवाई की गई है। जिला बदर की कार्रवाई भी हुई है। बाबा मीडिया के सवाल पर जिले के एक भी रेत माफिया का नाम और उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं बता पाएऔर हर बार की तरह शिवराज सरकार पर आरोप दोहराते रहे। बोले- भाजपा के 15 साल में नदियों को कचरा कर दिया, नर्मदा को बेच खा गए। अब कमलनाथ सरकार है। गंदगी साफ करने और अवैध खनन को रोकने में कुछ समय तो लगेगा। पौधरोपड़ में भ्रष्टाचार हुआ, जिसकी सरकार जांच करा रही है। जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई होगी।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned