सौगात :  30  जून तक खुला रहेगा सतपुड़ा टाइगर रिजर्व

सौगात :  30  जून तक खुला रहेगा सतपुड़ा टाइगर रिजर्व
STR

Sanket Shrivastava | Updated: 11 Jun 2016, 09:00:00 AM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

सरकार ने जारी किया संशोधित आदेश, एक जुलाई  से 30  सितंबर तक रहेगा प्रवेश पर प्रतिबंध


होशंगाबाद। 
प्रदेश के सभी टाइगर रिजर्व अब सैलानियों के लिए 15 दिन और खुले रहेंगे। राज्य शासन यह आदेश शुक्रवार को जारी किया। पहले सतपुड़ा टाइगर रिजर्व (एसटीआर) के गेट 15 जून को बंद होने वाले थे। नए आदेश के बाद अब ये एक जुलाई को बंद होंगे। सैलानी  30 जून तक एसटीआर की सैर का लुप्फ उठा सकेंगे। अभी तक प्रदेश के टाइगर रिजर्व 15 जून से 30 सितंबर तक बंद रहते हैं। अब सरकार ने इनकी बंद होने की अवधि में १५ दिन की कटौती कर दी है। इससे रिजर्व क्षेत्र के पर्यटन स्थल एक जुलाई से 30 सितंबर तक सैलानियों के प्रवेश के लिए बंद रहेंगे। इसके बाद एक अक्टूबर से आंशिक रूप से और 15 अक्टूबर से पूर्ण रूप से सैलानियों के लिए खोल दिए जाएंगे। एसटीआर के उप संचालक एके मिश्रा ने बताया कि शुक्रवार को ही यह आदेश विभाग को मिला।

बारिश में होगी मुश्किल
इस संबंध में मिश्रा ने बताया कि इससे निश्चित रूप से विभाग का राजस्व बढ़ेगा, लेकिन जिस दिन ज्यादा बारिश हो जाएगी, उस दिन सैलानी जंगल  की सैर पर नहीं जा सकेंगे। जंगल के रास्ते पूरी तरह से कच्चे हैं। बारिश के कारण इनमें कीचड़ होने के साथ ही नालों में पानी आ जाने से वाहन बंद हो जाते हैं।

तेजी से होगी बुकिंग
एसटीआर प्रबंधन का कहना है कि अभी तक उनके पास सिर्फ 15 जून तक की ही बुकिंग थी। शासन द्वारा 15 दिन बढ़ाए जाने का आदेश शुक्रवार को जारी किया है। बढ़े हुए इन दिनों के लिए तेजी से बुकिंग होने की उम्मीद है। बारिश हो जाने के बाद जंगल में मौसम वैसे ही ज्याद सुहाना हो जाता है। जंगल में हरियाली भी बढऩे लगती है।

वन्य प्राणियों का प्रजननकाल
विशेषज्ञों के अनुसार बारिश के दौरान वन्य क्षेत्रों में सैलानियों के प्रवेश पर रोक लगाने का एक सबसे बड़ा कारण यह होता है कि यह वन्य प्राणियों का प्रजननकाल होता है। ऐसे समय में उनके व्यवहार में किसी प्रकार को व्यवधान नहीं हो, इसके चलते लोगों के प्रवेश पर रोक लगाई जाती है।
Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned