भाई के साथ बाजार जा रही छात्रा का किया अपहरण....अब यह सजा मिली

आरोपी ने छात्रा का अपहरण उस समय किया था, जब वह अपने भाई के साथ किराना लेने के लिए जा रही थी

By: rakesh malviya

Published: 09 Dec 2017, 11:02 AM IST

मुलताई . अपर सत्र न्यायाधीश एमएस तोमर ने शुक्रवार को एक छात्रा का अपहरण करने वाले एवं मारपीट करने वाले एक आरोपी को पांच साल की सजा एवं छह हजार स्र्पए का अर्थदंड लगाया है। आरोपी ने छात्रा का अपहरण उस समय किया था, जब वह अपने भाई के साथ किराना लेने के लिए जा रही थी, आरोपी उसे बाइक पर बैठाकर जंगल की ओर ले जा रहा था, छात्रा ने बाइक से कुदकर अपने आप को बचाया था।
सरकारी अधिवक्ता भोजराज सिंह रघुवंशी ने बताया कि खतेडा रोड से बोरीखुर्द मार्ग पर 21 अगस्त 2015 को आवेदिका अपने भाई सुरेश के साथ किराना लेने के लिए जा रही थी। तभी मोटरसाइकिल पर संदीप पिता नब्बू अहाके एवं अनिल पिता रामदास निवासी कन्हडगांव थाना आमला आए और उन्होंने सुरेश को मारपीट कर भगा दिया और आवेदिका को जबरदस्ती अपहृत कर बाइक पर बैठा लिया और जंगल की ओर ले जाने लगे, तभी छात्रा बाइक से कूद गई, जिससे उसे गंभीर चोटे भी आई। छात्रा सीधे घर पहुंची और पूरी घटना परिजनों को बताई, जिसके बाद थाना आकर दोनों युवकों के खिलाफ धारा 363 ,366, 323 भादवि के तहत अपराध दर्ज किया। न्यायालय ने सुनवाई करते हुए मामले में अनिल को दोषमुक्त कर दिया, वहीं संदीप को दोषी पाते हुए धारा 366 भादवि में पांच साल की सजा एवं पांच हजार रुपए का अर्थदंड एवं धारा 323 भादवि में 1 साल की सजा एवं एक हजार रुपए अर्थदंड लगाया है।

महिला को जलाने पर चार आरोपियों को सात-सात वर्ष की सजा सुनाई
महिला को जलाने वाले चार लोगों को न्यायधीश द्वारा सात-सात साल की सजा तथा चालीस हजार अर्थदंड से दंडित किया गया है। सरकारी अधिवक्ता भोजराज रघुंवशी ने बताया कि मुलताई थाना क्षेत्र के दुनावा में 1 जुलाई 2015 शाम 7 बजे आवेदिका फूलवंती के घर के सामने फूलवंती को ननद मीनू बाई, नंदोई बसंत प्रजापति, छोटीबाई उर्फ हेमलता एवं पिंटू उर्फ पिंकेश प्रजापति ने केरोसीन डालकर जला दिया था, फूलवंती के चिल्लाने पर परिजनों ने जान बचाई थी। फूलवंती बाई की शिकायत पर पुलिस ने चारों के खिलाफ धारा 307 भादवि के तहत अपराध दर्ज किया था। न्यायाधीश एमएस तोमर ने चारों को धारा 307 के तहत दोषी पाते हुए सात-सात साल सश्रम कारावास एवं दस-दस हजार रुपए का अर्थदंड भी लगाया गया है।

rakesh malviya Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned