सीएम की सुरक्षा बढ़ाई, अब 200 जवानों के घेरे में रहेंगे

सीएम की सुरक्षा बढ़ाई, अब 200 जवानों के घेरे में रहेंगे

devendra awadhiya | Publish: Sep, 06 2018 01:36:41 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

व्यापक बंद और विरोध को देखते हुए लिया पुलिस ने फैसला

होशंगाबाद. जिले में एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में गुरुवार को भारत बंद के तहत बाजार, होटलें और स्कूल-कॉलेज बंद रहे। बंद का व्यापक असर देखा गया। शांति पूर्ण तरीके से बंद आंदोलन जारी है। बाजारों में सन्नाटा छाया रहा। सामान्य, पिछड़ा एवं अल्प संख्यक वर्ग, सपाक्स समाज ने विरोध जताते हुए संशोधन की मांग की है। इधर, हरदा और होशंगाबाद में जन आर्शीवाद यात्रा लेकर आ रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सुरक्षा पहले से तगड़ी की गई है। कारकेट के साथ उपद्रव निरोधक 4 दस्ते भी लगाए गए हैं। सुरक्षा घेरा आधा दर्जन बढ़ाया गया है। सुरक्षा घेरे में दो सौ सुरक्षा जवान व अधिकारी लगाए गए हैं। पहले से सीएम की सुरक्षा व्यवस्था तीन गुनी कर दी गई है।

 

जिले में शांतिपूर्ण बंद जारी
जिले में भारत बंद शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है। होशंगाबाद सहित बाबई, डोलरिया, सिवनीमालवा, सेमरीहरचंद, सोहागपुर, पिपरिया, बनखेड़ी सहित छोटे कस्बों और ग्रामों में भी बंद का व्यापक असर दिखाई दे रहा। बाजार पूरी तरह से बंद हैं। होटलें और पेट्रोल पंप भी बंद हैं। लोगों को चाय-नाश्ते तक नसीब नहीं हो रहा।

रैली निकालकर सौंपा ज्ञापन
होशंगाबाद संभागीय व जिला मुख्यालय पर सुबह बाजार बंद होने के बाद सामान्य, पिछड़ा व अल्पसंख्यक वर्ग, सपाक्स समाज सहित विभिन्न संगठनों ने मिलकर वाहन रैली निकाली। काले झंडे के साथ प्रदर्शन किया। रैली कलेक्टे्रट गेट पर पहुंची। यहां प्रदर्शनकारियों ने कलेक्टे्रट का घेराव कर कलेक्टर प्रियंका दास को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपकर एट्रोसिटी एक्ट का विरोध कर इसे वापस लिए जाने की मांग उठाई।

सीएम की सुरक्षा बढ़ाई गई
इधर, हरदा एवं होशंगाबाद के सिवनीमालवा में जन आर्शीवाद यात्रा लेकर आ रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई है। एसपी अरविंद सक्सेना ने बताया कि कारकेट के साथ 4 उपद्रव निरोधक दस्ते के साथ दो सौ सशस्त्र सुरक्षा जवानों को लगाया गया है। सुरक्षा घेरा 50 से दो सौ किया गया है। कलेक्टर प्रियंका दास ने बताया कि जिले में बंद शांतिपूर्ण तरीके से जारी है। आंदोलनकारियों की तरफ से ज्ञापन दिया गया है। बाइक रैली निकाली गई है। अगर आमजन एवं व्यापारियों को अपनी सुरक्षा के प्रति कोई भी शिकायत हो तो वे सीधे उनसे संपर्क कर सकते हैं। अगर कोई भी लायन आर्डर को तोड़ेगा तो उसके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई होगी। अभी तक किसी भी प्रकार की गिरफ्तारियां नहीं हुई है।

 

Ad Block is Banned