रेत माफिया के खिलाफ कार्रवाई पर एसपी और एसडीएम के पहले भी हो चुके हैं तबादले

रेत माफिया के खिलाफ कार्रवाई पर एसपी और एसडीएम के पहले भी हो चुके हैं तबादले
transferred

Sandeep Nayak | Updated: 18 Sep 2019, 01:52:20 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

एसपी-एसडीएम भी नप चुके रेत के कारण

होशंगाबाद/कलेक्टर और एसडीएम का विवाद प्रदेशभर में सुर्खियां बना हुआ है। मामले में हर दिन नए तथ्य सामने आ रहे हैं। आपको बता दें रेत माफियाओं पर कार्रवाई करने के मामले में पहले भी अधिकारियों के तबालदले हो चुके हैं। तत्कालीन एसपी अरविंद सक्सेना को रेत माफिया के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई के चलते ही उन्हें हटाकर एमएल छारी को कप्तानी सौंपी गई थी। जबकि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह खुद उनके द्वारा की जा रही कार्रवाईयों की सार्वजनिक रूप से तारीफ कर चुके थे। इसी रेत माफिया से उलझने के कारण तत्कालीन एसडीएम आरएस बघेल का महज छह माह में तबादला कर दिया गया था।
जिले में अवैध रेत उत्खनन एवं परिवहन के खिलाफ सर्वाधिक कार्रवाईयां तत्कालीन एसपी अरविंद सक्सेना और तत्कालीन एसडीएम आरएस बघेल ने की। माफिया, नेता और अफसरों का एक गठजोड़ इनके खिलाफ खड़ा हो गया था, जिसके चलते दोनों का तबादला हुआा

पूर्व एसपी अरविंद सक्सेना
19 माह का कार्यकाल। पहली बार पोकलेन से खनन पर पूर्णता रोक लगाई। रोक के बावजूद खनिज संपदा चोरी करने पर चोरी का मुकदमा दर्ज कराया। उन्होंने लगातार छापामार कार्रवाई कर 125 पोकलेन और 3200 डंपर-ट्रक और टै्रक्टर-ट्रॉलियां जब्त कराई थी। जिन पर कोर्ट से करोड़ों का जुर्माना भी हुआ। पूर्व कलेक्टर अविनाश लवानिया, प्रियंका दास और आशीष सक्सेना के साथ मिलकर पुलिस ने यह कार्रवाईयां की थी। होशंगाबाद-सीहोर जिले की सीमा पर स्थित एक खदान से पकड़े गए ट्रकों को नहीं छोडऩे पर 8 फरवरी को सक्सेना से कप्तानी छीन ली गई थी।

पूर्व एसडीएम आरएस बघेल
रेत पर कार्रवाईयां करने के कारण कलेक्टर से पटरी नहीं बैठी। 3 मार्च को चार्ज लेते ही अवैध रेत उत्खनन और परिवहन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। मार्च से जून माह के बीच लगभग 200 डंपर, ट्रक, जेसीबी, पोकलेन, टै्रक्टर-ट्रॉली जब्त किए। खनिज अधिनियम के तहत कार्रवाईयां की। स्वयं एवं न्यायालय अपर कलेक्टर के माध्यम से करीब 1 करोड़ 13 लाख 68 हजार 520 रुपए जुर्माना वसूला। करीब आधा दर्जन अवैध खनन के मामलों में 4 अरब 26 करोड़ 87 लाख 81 हजार रुपए का जुर्माना वसूलने केस प्रस्तुत किए थे। बघेल रवानगी से पहले जासलपुर से 32 डंपर-ट्रक, 2 पोकलेन एवं 2 जेसीबी भी जब्त कर 32 लाख का जुर्माना लगाकर गए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned