scriptTawa dam water left in canals without adequate cleaning | बिना पर्याप्त सफाई के नहरों में छोड़ दिया तवा डैम का पानी | Patrika News

बिना पर्याप्त सफाई के नहरों में छोड़ दिया तवा डैम का पानी

रविवार को खोली दांई तट नहर, छोड़ा जा रहा लगभग 40 क्यूसेक पानी

होशंगाबाद

Published: November 08, 2021 11:00:59 pm

सोहागपुर। नहर विभाग की इस बार फिर लापरवाही एवं मनमानी दिखाई है तथा बिना पर्याप्त नहरों की सफाई कराए ही तवा डैम का पानी दाएं तट नहर में छोड़ा जा रहा है। रविवार को तवा डैम की दाएं कट नहर के बागड़ा ब्रांच केनाल वाले हिस्से में कई स्थानों पर सफाई कुछ दूरी तक की गई है। जबकि नहरों का अधिकतर हिस्सा अभी भी झाडिय़ों व खरपतवार से पटा हुआ है। कई जगह नहरों में कटाव भी हैं लेकिन इस ओर ध्यान न देते हुए व नहरों की बिना पर्याप्त सफाई कराए ही डैम का पानी छोड़ा जा रहा है। रबी सीजन की मुख्य फसल गेहूं के लिए नहरों में पानी छोड़ा जाना है। लेकिन जिस तरह के हालात नहरों के हैं उससे भविष्य में किसानों में असंतोष उत्पन्न होने की स्थिति वर्तमान में ही नजर आने लगी है। रविवार दोपहर नहर विभाग ईई एसके पीपरे की उपस्थिति में तवा डैम की दाईं तक नहर खोली गई है। फिलहाल 40 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है तथा किसानों की डिमांड के आधार पर पानी की मात्रा नहरों में बढ़ाई जाएगी।
दाएं तट पर दो मुख्य ब्रांच
ेतवा डैम की दांई तट नहर की दो मुख्य ब्रांच हैं, जिनमें से एक ब्रांच पिपरिया मैन कैनाल है तो दूसरी बागड़ा मेन कैनाल है। इनकी दर्जनों उप नहरें एवं वितरिकाएं हजारों हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई के लिए पानी खेतों तक पहुंचाती हैं। लेकिन वर्षों से टेल क्षेत्र के किसानों को शिकायत रही है कि नहरों का पानी उनके खेतों तक नहीं पहुंच पाता है। शिकायतें वर्षों से जारी हैं, लेकिन निराकरण के प्रयास नाकाफी हैं।
माइनर का नहीं हुआ सीमेंटीकरण
वैसे तो करोड़ों रुपए की लागत से नहरों को पक्का भी किया जा रहा है, लेकिन इस काम में की गई लापरवाही एवं अधिकारियों की अनदेखी का परिणाम यह है कि पक्की नहरें भी क्षतिग्रस्त हो चली हैं। जबकि यह काम अभी तक पूर्ण ही नहीं हो पाया है। मामले में यह भी चिंता का विषय है कि अब तक मुख्य केनाल के सीमेंटीकरण की ओर तो सिंचाई विभाग का ध्यान है लेकिन माइनरों के सीमेंटकरण को लेकर शासन अब तक गंभीर नहीं है।
इनका कहना है
नहरों की सफाई का काम जारी है। फिलहाल पानी किसानों तक पहुंचाने पर ध्यान है। फिर भी आप की सूचना पर मैं दिखाता हूं कि कहां सफाई नहीं हो पाई है।
एसके पीपरे, ईई, सिंचाई विभाग
बिना पर्याप्त सफाई के नहरों में छोड़ दिया तवा डैम का पानी
बिना पर्याप्त सफाई के नहरों में छोड़ दिया तवा डैम का पानी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

विश्व के सबसे लोकप्रिय नेता बने PM Modi, ग्लोबल सर्वे में बाइडेन और ट्रूडो जैसे दिग्गजों को पछाड़ाCorona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरदिल्ली में घटते कोरोना मामलों के बीच वीकेंड कर्फ्यू हटाने का फैसला, CM अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल को भेजा पत्र50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup 2022: ICC ने जारी किया शेड्यूल, इस दिन होगी भारत-पाकिस्तान की टक्करतीन तलाक मामला-फोन पर बोला और तोड़ दिया रिश्ताAadhaar Card में अपडेट करना चाहते हैं नया मोबाइल नंबर, फॉलो करें यह आसान तरीकाPariksha Pe Charcha 2022: छात्र, शिक्षक अब 27 जनवरी तक कर सकते हैं आवेदन
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.