मिशाल पेश की : 55 साल की उम्र में शिक्षक ने 43 बार दिया रक्त

पुत्र के साथ रक्त दान कर अनुकरणीय मिसाल पेश की।

By: rakesh malviya

Published: 11 Dec 2017, 10:40 AM IST

चिचोली. युवा जागृति मंडल के तत्वावधान में विकासखंड के ग्राम जोगली में रक्तदान शिविर एवं मोतियाबिंद परीक्षण शिविर का आयोजन किया। मंडल के सदस्यों ने शिविर का शुभारंभ शहीदों को श्रद्धासुमन अर्पित कर किया।
रक्तदान शिविर में 27 लोगों ने रक्तदान किया एवं 45 लोगों की आंखों की जांच की गई। शिविर के दौरान क्षेत्र के समाजसेवी मदन मोहन शुक्ला ने अपने पुत्र के साथ रक्त दान कर अनुकरणीय मिसाल पेश की। जोगली के आरोग्य केंद्र में रक्तदान शिविर के शुरुआती दौर में ग्राम असाड़ी के समाजसेवी शिक्षक मदन मोहन शुक्ला ५५ ने 43वीं बार रक्तदान कर युवाओं को रक्तदान करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि रक्तदान करने से किसी प्रकार की कमजोरी नहीं आती है। यदि हम लोगों को शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि रक्तदान कर दी जा सकती है। क्योंकि रक्तदान कर हम हमेशा दूसरों की जान बचाते हैं। इसके बाद उनके 17 वर्षीय पुत्र भरत शुक्ला ने भी अपने पिता की प्रेरणा से पहली बार रक्तदान किया। पुत्र के साथ रक्त दान कर अनुकरणीय मिसाल पेश की शिविर में विधायक मंगल सिंह धुर्वे ने भी रक्तदान किया। भूपेन्द्र कहार ने भी 43 वीं बार रक्त दान किया। शिविर में हौसीलाल गंगारे, श्याम ठाकुर , गिरधर वानखेड़े राजेश ठाकुर, चंद्रकिशोर, कौशल्या खोड़के, विजय राठौर बालाराम का विशेष सहयोग रहा। पुत्र के साथ रक्त दान कर अनुकरणीय मिसाल पेश की।
सम्मेलन को लेकर तैयारी
बैतूल ञ्च पत्रिका. दि बौद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया जिला शाखा बैतूल अध्यक्ष कमल घोगरकर के मार्गदर्शन में एवं महासचिव संदीप पाटिल , तुकाराम लोखंडे के नेतृत्व में रविवार को युवक-युवती परिचय सम्मेलन के लिए सारणी क्षेत्र में जोर-शोर से प्रचार-प्रसार किया गया। इस मौके पर पदाधिकारियों ने पाथाखेड़ा नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर में हिस्सा लेते लोगों को सम्मेलन की रूपरेखा से अवगत कराया। इस मौके पर युवा प्रकोष्ठ अरुण डोंगरे मीडिया प्रभारी रामा अतुलकर सहित किशोर झरबड़े, रमेश चन्देलकर आदि उपस्थित रहे।

rakesh malviya Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned