घर से शिक्षक स्कूलों के बच्चों को पढ़ाएंगे

राज्य शिक्षा केंद्र ने ई-लर्निंग की शुरूआत, वाट्सअप पर भेजेंगे कोर्स

इटारसी. कोरोना के कारण 21 दिन के लॉकडाउन के चलते स्कूल बंद हो गए हैं। ऐसे में शिक्षक और बच्चे घरों में कैद हैं। शिक्षक जहां बच्चों के परीक्षा परिणाम बनाने में व्यस्त हैं, वहीं घरों में बच्चों को बोरीयत से बचाने की तरकीब राज्य शिक्षा केंद्र ने निकाली है। केंद्र ने पहली से आठवीं तक के बच्चों के लिए ई लर्निंग कोर्स तैयार किया है। ये कोर्स शिक्षकों के वाटसएप पर रोज भेजे जाएंगे।

कोर्स मोबाइल पर भेजना किया शुरू
शिक्षक इसे अपने स्कूल के बच्चों के पालकों के मोबाइल पर भेजेंगे। इसे बच्चे घर बैठे मोबाइल पर पढ़ सकेंगे। केंद्र ने गुरुवार से रोज विज्ञान और गणित विषय के पाठ्यक्रम से आओ करके सीखें के तहत कोर्स सामग्री शिक्षकों के मोबाइल पर भेजना शुरू किया है। जैसे विज्ञान में कंसेप्ट उष्मा की पहचान पर गर्म और ठंडा क्या, ऊष्मा संचरण कैसे?, ऊष्मा का मापन कैसे आदि जानने जैसे वीडियो लिंक तैयार किया गया है। अधिकारियों के मुताबिक पालक दिए गए लिंक को क्लिक करें और अपने बच्चों को यह विडियो दिखाए ताकि वे इस अवधारणा को स्पष्टता के साथ समझ सके।सभी शिक्षक बच्चों ओर पालकों के मोबाइल नंबर तथा शिक्षक के संयुक्त रूप में उक्त सामग्री सभी बच्चों को शेयर करेंगे।

इनका कहना
राज्य शिक्षा केंद्र ने लॉक डाउन से 21 दिन तक सरकारी स्कूलों में अवकाश को देखते हुए बच्चों के लिए ई-लर्निंग पाठ्यक्रम शुरू किया है, जोकि शिक्षक के माध्यम से मोबाइल पर पालकों को भेजा जाएगा। जो बच्चों को पढ़ायेंगे।
एसएस पटेल, डीपीसी, होशंगाबाद

rakesh malviya Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned