रियायती पास पर भड़का कंडक्टर, कहा...मेरी गाड़ी में आरटीओ थोड़ी डलवा रहे डीजल

रियायती पास पर भड़का कंडक्टर, कहा...मेरी गाड़ी में आरटीओ थोड़ी डलवा रहे डीजल

Manoj Kumar Kundoo | Updated: 11 Jul 2019, 12:37:23 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

विकलांग यात्रियों को कंडक्टर ने खूब सुनाई खरी-खोटी

 

होशंगाबाद. विकलांग यात्रियों के लिए आरटीओ ने रियायती पास जारी किया था। जिसका पालन विकलांगो ने किया। बुधवार को जब विकलांग ने पास और 50 प्रतिशत किराया बस कंडेक्टर को दिया तो। यात्रियों को कंडक्टर ने खूब खरी खोटी सुनाई। बस में भी दुव्र्यहार किया। इटारसी से होशंगाबाद आ रही एक बस में सवार दो विकलांग यात्रियों से कंडक्टर ने केवल दुव्र्यहार किया। मामले में क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी से शिकायत की गई है। सुबह 11.30 बजे इटारसी से चलकर होशंगाबाद आ रही शिवम बस सर्विस की बस क्रमांक एमपी48-पी-1143 में पीछे की सीट बबलू पिता राधेलाल और एक अन्य विकलांग सवार थे।

 

कंडक्टर ने कहा ये
बस कंडक्टर ने दोनों से टिकट मांगा। दोनों ने इटारसी से होशंगाबाद का किराया 10-10 रुपए थमा दिया। जिस पर कंडक्टर भड़क गया। कंडक्टर ने कहा पहली बार सफर कर रहे हो क्या। जिसके बाद आरटीओ द्वारा जारी विकलांगता प्रमाण पत्र के आधार पर रियायती पास दिखाया। कंडक्टर ने 10-10 रुपए लिए और खूब खरी-खोटी सुनाई।

 

विकलांग यात्रियों और कंडक्टर के बीच हुई बातचीत के मुख्य अंश
कंडक्टर: टिकट...टिकट...निकालो भाई!
यात्री : लो भैया...(दस रुपए दिए)।
कंडक्टर : कहां जाना है।
यात्री : होशंगाबाद..
कंडक्टर : 10 नहीं 20 रुपए निकालो। पहली बार बस में बैठ रहे हो क्या।
यात्री : विकलांग पास है। आरटीओ ने जारी किया है। दस रुपए लगते हैं।
कंडक्टर : जगह घेर के बैठ गए हो और पास दिखा रहे हो। लाओ दिखाओ कहां का पास है।
यात्री : ये देखा, आरटीओ ने लिखा है ५० प्रतिशत टिकट में छूट।
कंडक्टर : आरटीओ से क्या मतलब। आरटीओ डीजल थोड़ी डलवा रहे हैं मेरी गाड़ी में।

 

बस में बदसलूकी हुई है, जुर्माना करेंगे
विकलांग यात्रियों को पास जारी किए गए हैं। जिनसे नियमानुसार ५० प्रतिशत किराया लेना है। बस में बदसलूकी हुई है। जिसका वीडियो शिकायतकर्ता ने भेजा है। जुर्माना किया जाएगा।
मनोज तेहनगुरिया, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी होशंगाबाद

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned