चौबीस घंटे में बढ़ा तीन इंच पानी, यही हाल रहा तो नहीं खुलेंगे तवा बांध के गेट

चौबीस घंटे में बढ़ा तीन इंच पानी, यही हाल रहा तो नहीं खुलेंगे तवा बांध के गेट

sandeep nayak | Publish: Sep, 02 2018 04:58:40 PM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

तवा का जलस्तर ११५०.७० फीट पर पहुंचा, तवानगर और पचमढ़ी में हुई बारिश से धीरे-धीरे बढ़ रहा जलस्तर

इटारसी. पिछले चौबीस घंटे में तवा बांध का जलस्तर तीन इंच बढ़ा है। शनिवार शाम ७ बजे तवा बांध का जलस्तर ११५०.७० फीट दर्ज किया गया। जबकि शुक्रवार को जलस्तर ११५०.४० फीट रिकार्ड किया गया था। बांध प्रबंधन के मुताबिक यही हालात रहे तो तवा बांध के गेट नहीं खुलेंगे। जिससे पर्यटकों को मायूस होना पड़ेगा। उल्लेखनीय है कि बांध के गेट खुलने के बाद जलप्रपात का नजारा देखने के लिए बड़ी संख्या में पर्यटक तवानगर आते हैं। तवा बांध के एसडीओ एनके सूर्यवंशी ने बताया कि जलस्तर बहुत धीरे-धीरे बढ़ रहा है। पिछले वर्ष बांध का जलस्तर ११५६ फीट तक पहुंचा था। इस साल भी संभवना है कि इसी तरह के हालात रहेंगे। हमें बांध का जलस्तर अभी गवर्निंग लेवल से बहुत कम है। १५ अक्टूबर तक गवर्निंग लेवल ११६६ फीट मेंटेंन करना है।
कैचमेंट एरिया में नहीं हो रही बारिश
पर्यटन के क्षेत्र में तेजी से अपनी पहचान बना रहा तवा बांध इस बार पर्यटकों को अपने जलप्रपात का नजारा संभवत: नहीं दिखा पाएगा। कैचमेंट एरिया में झमाझम बारिश नहीं होने से तवा बांध का जलस्तर बहुत धीरे-धीरे बढ़ रहा है।

सूख रही सोयाबीन का सर्वे कराने की मांग
होशंगाबाद. भारतीय किसान संघ ने गुरुवार को कलेक्टर को ज्ञापन दिया। ज्ञापन के माध्यम से संघ ने खेतों में सूख रही सोयाबीन व उड़द फसल का सर्वे कराने और मुआवजा देने की मांग की है। संघ ने कलेक्टर को बताया कि सोयाबीन में विशेष वैरायटी जीएस ९५, ६० को अत्यधिक नुकसान हो रहा है। फसलों में किसानों की पूरी लागत लग चुकी है। इसलिए सर्वे कराकर किसानों को राहत राशि दी जाए। अल्पवर्षा के कारण धान की फसल भी ५० प्रतिशत खराब होने की कगार पर है। ऐसी फसलों को भी सर्वे कराकर किसानों को राहत दी जाए। इसके अलावा खरीफ फसल पंजीयन केंद्रों की संख्या कम कर दी गई है। जिन केंद्रों पर गेहूं का उपार्जन किया गया है। उन सभी केंद्रों पर पंजीयन की व्यवस्था की जाए। जिससे किसानों को असुविधा का सामना नहीं करना पड़े। ज्ञापन देने वालों में सर्वज्ञ दीवान, संतोष पटवारी, हरिओम भारती गोस्वामी, ब्रज पटेल, ललित चौहान सहित अन्य शामिल थे।

Ad Block is Banned