धरा रह गया प्रोजेक्ट, न खाद बनी, न पॉलीथिन

धरा रह गया प्रोजेक्ट, न खाद बनी, न पॉलीथिन

yashwant janoriya | Publish: May, 17 2019 05:54:57 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

शहर से निकलने वाले कचरे का निपटान की बनाई थी योजना

इटारसी. नगर पालिका ने शहर के कचरे से दो योजना बनाई थी। एक कचरे से खाद बनाकर बेचना और कचरे से निकलने वाली पॉलीथिन से प्लास्टिक बनाने की योजना दोनों ने आज तक मुर्त रूप नहीं लिया है। न्यास कॉलोनी स्थित बाइपास की सड़क किनारे कचरे के पहाड़ से खाद बनाने का प्लांट बंद पड़ा है। नगरपालिका ने इंदौर की एक कंपनी से कचरे से खाद बनाने का अनुबंध किया था। यह प्लांट कुछ दिन ही चला फिर जो बंद हुआ तो आज तक चालू नहीं हो पाया है। इस पर करीब 20 लाख रुपए खर्च किए गए थे।

यह पूरा प्रोजेक्ट
नगर पालिका का इंदौर की फर्म गोरांग बॉयो केमिकल्स से अनुबंध हुआ था कि 1000 रुपए प्रतिटन के हिसाब से कचरे का भुगतान नपा द्वारा किए जाने की बात तय हुई थी। इस कचरे में से 15 फीसदी खाद बनाई जाना थी। कचरे से जो खाद बनती उसे नपा कंपनी से 2000 रुपए प्रति टन यानी 2 रुपए प्रतिकिलो की दर से खरीदती और यदि इस खाद के बाहरी बाजार में अच्छे दाम मिलते तो वह खाद बाहर भी बेचने की नपा की योजना थी। इसमें 1 रुपए ५० पैसे प्रति किलो या 1500 रुपए प्रति टन की केंद्र सरकार की ओर से सब्सिडी भी मिलना तय हुआ था। 21 दिन में खाद को तैयार किए जाने की योजना थी।

यह किया था काम
न्यास कॉलोनी में ट्रेचिंग ग्राउंड बनाया गया था उसे विकसित करने के लिए नपा ने करीब 20 लाख रुपए खर्च किए हैं। 10 लाख रुपए का टेंडर कंपनी को कचरे के निष्पादन और जैविक खाद तैयार करने के लिए दिया गया था। वहीं 10 लाख रुपए की राशि से करीब 2000 वर्गफुट में ग्रीन ग्रास बिछाई गई थी।

फटका मशीन में जम गई धूल
नगर पालिका ने कचरे के साथ निकलने वाली पॉलीथिन के प्रबंधन की व्यवस्था की योजना भी बनाई थी। इस योजना के तहत के यह मशीन खरीदी गई थी इस मशीन को फटका मशीन कहा जाता है। यह मशीन ओवरब्रिज के नीचे रखी हुई है और इस पर धूल की परत जम चुकी है। यह मशीन एक दिन भी काम नहीं आई। इस मशीन से पॉलीथिन की सफाई करने के बाद प्लास्टिक बनता है। यह सेकेंड क्वालिटी का प्लास्टिक होता है। इस प्लास्टिक को रोड बनाने के काम में लिया जाता है।

दोनों योजना पर थोड़े दिन में काम शुरू कराएंगे। न्यास कॉलोनी में खाद भी बनाएंगे और फटका मशीन को भी शुरू कर जाएगा। आचार संहिता के खत्म होने के बाद किया जाएगा।
हरिओम वर्मा, सीएमओ इटारसी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned