मैं समाज का दुश्मन हूं, शटडाउन के दिन बिना काम के बाहर निकलने वालों के खीचवाएं गए फोटो

नमाज घर से पढऩे की शहर काजी की अपील, लॉकडाउन में भी खुले रही होशंगाबद सिहोर की सीमा

होशंगाबाद। मंगलवार को होशंगाबाद में लॉकडाउन लगने के बाद पुलिस ने बिना काम के घूमने वालों लोगों पर सख्ती दिखाई है। फालतू घूम रहे लोगों को पुलिस ने पहले तो पूछताछ की , इसके बाद भी नहीं मानने वालों को तो पुलिस ने कई स्थानों में लाठी भी भांजी साथ ही पुलिस ने बेवजह सड़कों पर घूमने वालों लोगों को उनके हाथ में एक पोस्टर थमाया और फोटो खिचवाया। इस पोस्टर में लिखा था कि -मैं समाज का दुश्मन हूं, घर पर नहीं रहूंगाÓ मैं भी वायरस हूं। जिसको सोसल मीडिया में वायरल करने को कहा है।
अभी भी लॉक डाउन को लोग गंभीरता से नहीं ले रहे लोग

आप को बता दें कि कोरोना वायरस की गंभीरता को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा सोमवार को ट्वीट कर कहा था कि कई राज्यों में लॉक डाउन को लोग गंभीरता से नहीें ले रहे है। जिसके बाद भोपाल में 31 मार्च तक लॉक डाउन किया गया है। एेसे में अब प्रशासन आने वाले दिनों में इससे भी सख्त कदम उठाने की तैयारियों में है।
लॉकडाउन नाम का, सीमाओं में पुलिस भी नहीं

लॉकडाउन को पुलिस प्रशासन भी हल्के में ले रहा है, मंगलवार को सिहोर और होशंगाबाद को जोडऩे वाली सीमा नर्मदा ब्रिज से लोग आसानी आ जा रहे थे। इसके बाद यहां वहां की गलियों से शहर में अलग-अलग स्थान पर पहुंच रहे हैं। वहीं पुलिस ने जो बेरिकेट लगाए हैं, वो सीमा से करीब ३ किलोमिटर दूरी पर भोपाल तिराहे पर लगाए गए हैं। जहां पर इन बेरिकेट्स का कोई खास मतलब नहीं है।
कोरोना को लेकर शहर काजी का बड़ा फैसला

मस्जिदों में पांच वक्त की नमाज में एकात्रिकरण को शहर काजी ने मना कर दिया है। लोगों को अपने घरों में नमाज पढऩे को कहा है। इसके साथ जुमे की नमाज में भी मस्जिदों में नही आने की अपील की गई है। शहर काजी अशफाक अली ने बताया कि कोरोना वायरस पूरी दुनिया मे महामारी की तरह फैल गया है। हमारे मुल्क में भी इसकी दस्तक हो चुकी है। शासन - प्रशासन इसकी रोकधाम के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है। इसी के तहत 31 मार्च तक लॉकडाउन का फैसला लिया गया है। जिसका मुस्लिम समाज समर्थन करता है।
टोल फ्री नंबर 104 और 181 जारी किए

प्रदेश सरकार ने दो टोल फ्री नंबर 104 और 181 जारी किए हैं। इसमें कोरोना के लक्षण वाली कोई भी समस्या हो तो इस नंबर पर संपर्क करें। आपको बता दें कि होशंगाबाद जिले में प्रशासन ने पहले 31 मार्च तक लॉक डाउन लगाया है।
ज्वारे को स्ािागित किया गया है

नवरात्रि चैत्रमास शुक्ल की प्रतिपदा 24 मार्च से 2 अप्रैल में आदिशक्ति नवदुर्गा के स्वरूप के प्रतीक ज्वारे का परंपरागत पर्व कोरोना महामारी के कारण स्थगित कर दिया है। सभी की सुख-शांति एवं प्रसन्नता हेतु ग्वाल समाज ग्वालटोली के परिवारों द्वारा 82 साल यह दूसरा मौका होगा जब सामूहिक रूप से नवरात्रि के पर्व पर अनेक परिवारों द्वारा जवारे रख कर अपने घरों में नौ दिन तक रोजाना भजन कीर्तन कर पंडा, परिहारों के शीश कुल के देवी ओर देवताओं का आगमन होता ओर वे परेशानियों को दूर करते। महासभा के प्रदेश महासचिव आत्माराम यादव के अनुसार अब इस वर्ष रामनवमी को हजारों की सॅख्या में जुलूस द्वारा माँ नर्मदा में जवारे विसर्जन का आयोजन स्थगित कर दिया गया है तदाशय का एक ज्ञापन एडीएम जीपी माली, एसडीएम आदित्य रिछारिया को सौंपा।

इनका कहना है

हमे अभी जानकारी मिली है, बुधवार से नर्मदा ब्रिज सिहोर जिले की सीमा में पुलिस बल लगाया जाएगा। किसी को भी सीमा के भीतर प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। पूरी तरह से जिले में लॉक डाउन होगा।- संतोष गौर, एसपी होशंगाबाद

amit sharma Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned