scriptTrack maintenance is being done with modern machines, so that railways | आधुनिक मशीनों से किया जा रहा ट्रैक रखरखाव, ताकि यात्री परिवहन और मालभाड़े से रेलवे को मिले फायदा | Patrika News

आधुनिक मशीनों से किया जा रहा ट्रैक रखरखाव, ताकि यात्री परिवहन और मालभाड़े से रेलवे को मिले फायदा

होशंगाबाद, इटारसी सहित पश्चिम मध्य रेलवे के करीब ८ हजार किमी रेलवे ट्रैक का किया गया मेंटनेंस

होशंगाबाद

Published: December 27, 2021 09:27:25 pm

होशंगाबाद
रेल प्रशासन द्वारा अब रेलवे ट्रैक की मरम्मत व रखरखाव पर फोकस किया जा रहा है। पिछले आठ महीने में होशंगाबाद, इटारसी सहित पश्चिम मध्य रेलवे के ८ हजार किमी रेलवे ट्रैक का रखरखाव व मेंटनेंस किया गया है। यह कार्य 3 एक्स, सीएसएम, डब्ल्यूएसटी एवं एमपीटी मशीनों से किया गया। इन चार प्रकार की टैपिंग मशीनों द्वारा मेन ट्रैक का अनुरक्षण कार्य किया जा रहा है। जिससे यात्री परिवहन और माल का परिवहन ओर बेहतर तरीके से किया जा सके। जिसका फायदा रेलवे को राजस्व के रूप में मिलेगा। सीपीआरओ राहुल जयपुरियार ने बताया कि इन चारों टैम्पिंग मशीनों में से ३ एक्स मशीन द्वारा 2232 किमी, सीएसएम मशीन द्वारा 1480 किमी एवं डब्ल्यूएसटी मशीन द्वारा 3117 किमी एवं एमपीटी मशीन द्वारा 460 किमी का मेंटेनेंस किया गया है। जिसकी वजह से वर्तमान में न केवल यात्री परिवहन बल्कि माल ढुलाई में भी बढ़ोतरी हो रही है।
Track maintenance is being done with modern machines, so that railways can benefit from passenger transport and freight.
Track maintenance is being done with modern machines, so that railways can benefit from passenger transport and freight.
स्पीड और लोडिंग क्षमता बढ़ाना उद्देश्य-
वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए रेलवे द्वारा यात्री परिवहन और माल ढुलाई दोनों में बेहतर गति लाने के लिए सभी तरह के प्रयास और रखरखाव के साधनों को अपनाया जा रहा है। रेल पटरी के गति एवं लोडिंग क्षमता में नए आयाम कायम करने के लिए भारतीय रेल ने अपने ट्रैक को सुदृढ़ बनाया है। उसके अनुरक्षण के लिए भी ट्रैकमैनों की मेहनत के साथ, उच्च तकनीक मशीनों का इस्तेमाल करके एक आधुनिक ट्रैक मेंटेनेंस का काम किया जा रहा है।
आधुनिक मशीनों से किया जा रहा ट्रैक रखरखाव, ताकि यात्री परिवहन और मालभाड़े से रेलवे को मिले फायदा
-होशंगाबाद, इटारसी सहित पश्चिम मध्य रेलवे के करीब ८ हजार किमी रेलवे ट्रैक का किया गया मेंटनेंस
-पांच प्रकार की टैम्पिंग मशीन के उपयोग से ट्रैक का किया जा रहा उच्च रखरखाव
होशंगाबाद
रेल प्रशासन द्वारा अब रेलवे ट्रैक की मरम्मत व रखरखाव पर फोकस किया जा रहा है। पिछले आठ महीने में होशंगाबाद, इटारसी सहित पश्चिम मध्य रेलवे के ८ हजार किमी रेलवे ट्रैक का रखरखाव व मेंटनेंस किया गया है। यह कार्य 3 एक्स, सीएसएम, डब्ल्यूएसटी एवं एमपीटी मशीनों से किया गया। इन चार प्रकार की टैपिंग मशीनों द्वारा मेन ट्रैक का अनुरक्षण कार्य किया जा रहा है। जिससे यात्री परिवहन और माल का परिवहन ओर बेहतर तरीके से किया जा सके। जिसका फायदा रेलवे को राजस्व के रूप में मिलेगा। सीपीआरओ राहुल जयपुरियार ने बताया कि इन चारों टैम्पिंग मशीनों में से ३ एक्स मशीन द्वारा 2232 किमी, सीएसएम मशीन द्वारा 1480 किमी एवं डब्ल्यूएसटी मशीन द्वारा 3117 किमी एवं एमपीटी मशीन द्वारा 460 किमी का मेंटेनेंस किया गया है। जिसकी वजह से वर्तमान में न केवल यात्री परिवहन बल्कि माल ढुलाई में भी बढ़ोतरी हो रही है।
स्पीड और लोडिंग क्षमता बढ़ाना उद्देश्य-
वर्तमान परिस्थिति को देखते हुए रेलवे द्वारा यात्री परिवहन और माल ढुलाई दोनों में बेहतर गति लाने के लिए सभी तरह के प्रयास और रखरखाव के साधनों को अपनाया जा रहा है। रेल पटरी के गति एवं लोडिंग क्षमता में नए आयाम कायम करने के लिए भारतीय रेल ने अपने ट्रैक को सुदृढ़ बनाया है। उसके अनुरक्षण के लिए भी ट्रैकमैनों की मेहनत के साथ, उच्च तकनीक मशीनों का इस्तेमाल करके एक आधुनिक ट्रैक मेंटेनेंस का काम किया जा रहा है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

हार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैंधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजप्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टEye Donation- बेटी को जन्म दे, चल बसी मां, लेकिन जाते-जाते दो नेत्रहीनों को दे गई रोशनीयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

विश्व के सबसे लोकप्रिय नेता बने PM Modi, ग्लोबल सर्वे में बाइडेन और ट्रूडो जैसे दिग्गजों को पछाड़ाCorona Update: कोरोना ने बनाया नया रिकॉर्ड, 24 घंटे में 3 लाख 47 हजार नए केस, 2.51 लाख रिकवरदिल्ली में घटते कोरोना मामलों के बीच वीकेंड कर्फ्यू हटाने का फैसला, CM अरविन्द केजरीवाल ने उपराज्यपाल को भेजा पत्र50 साल से जल रही ‘अमर जवान ज्योति’ आज से इंडिया गेट पर नहीं, राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर जलेगीT20 World Cup: टीम इंडिया का पूरा शेड्यूल, जानें कब और किस टीम से होगा मुकाबलाUP Election 2022: राहलु और प्रियंका ने जारी किया कांग्रेस का घोषणा पत्र, युवाओं पर फोकसइंडिया गेट पर लगेगी नेता जी की मूर्ति, पीएम मोदी ने ट्वीट की तस्वीरUP Election 2022: पूर्वांचल में कितना और क्या गुल खिलाएगा अखिलेश का ब्राह्मण कार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.