तीन ट्रेनों के स्टापेज की मांग के साथ शुरु होगा रेल रोको आंदोलन

तीन ट्रेनों के स्टापेज की मांग के साथ शुरु होगा रेल रोको आंदोलन

pradeep sahu | Publish: Sep, 04 2018 11:36:41 AM (IST) Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

शुक्रवार को बाजार बंद से शुरू होगा आंदोलन

सोहागपुर. सोहागपुर में पांच साल से नागरिकों को ट्रेन स्टापेज का इंतजार है, तथा कई बार सांसद के कोरे आश्वासनों के बाद अब नागरिकों ने रेल रोको संघर्ष समिति का गठन कर अब आंदोलन की तैयारी शुरु कर दी है। आंदोलन शुक्रवार से शुरु होगा, जिसकी लिखित व विधिवत सूचना प्रशासन को ज्ञापन रूप में सोमवार को दी गई है। दोपहर करीब साढ़े 12 बजे संघर्ष समिति के नागरिकों व जनप्रतिनिधियों ने एसडीएम ब्रजेश सक्सेना को कलेक्टर के नाम तथा स्टेशन अधीक्षक आरके कोतवाल को रेलवे जीएम के नाम ज्ञापन सौेंपे हैं। ज्ञापन के जरिए ट्रेन स्टापेज की मांग तो रखी, साथ ही चेतावनी भी दी कि संपूर्ण सोहागपुर बंद के साथ धरना दिया जाएगा। टे्रन स्टापेज की मांग पूर्ण न होने पर आमरण अनशन तथा पटरियों पर आंदोलन कर रेल रोकने में बदल जाएंगे। इस दौरान नगर परिषद अध्यक्ष संतोष मालवीय, भाजपा मंडलाध्यक्ष आकाश पटेल, विधायक प्रतिनिधि मनोज खंडेलवाल, अखंड भारत मोर्चा से संतोष सराठे, व्यापारी संघ अध्यक्ष राजेंद्र पालीवाल व व्यापारीगण, स्वर्णकार समाज से प्रशांत सोनी, नीलेश सोनी, ब्रजेश सोनी, संदीप वर्मा, सौरभ सोनी आदि, सर्व ब्राम्हण समाज से कृष्णा पालीवाल, प्रकाश मुदगल आदि उपस्थित थे।
ये हैं मांग- नागरिकों की मांग है कि सोहागपुर को पर्यटन स्टेशन घोषित किया जाए, क्योंकि सतपुड़ा नेशनल पार्क की टूरिज्म जोन मढ़ई का रास्ता सोहागपुर स्टेशन से जाता है तथा पर्यटन स्टेशन घोषित होने से सोहागपुर व आसपास के क्षेत्र के विकास के द्वार खुल जाएंगे। इसके अलावा इंटरसिटी एक्सप्रेस, श्रीधाम एक्सप्रेस तथा ओवरनाईट एक्सप्रेस के स्टापेज की मांग नागरिकों द्वारा की गई है। आंदोलन शुक्रवार सात सितंबर से शुरु होंगे तथा इस दिन संपूर्ण सोहागपुर बंद व एक दिवसीय धरना आयोजन होंगे।

थाना खोले जाने की मांग में आई तेजी
शोभापुर. ग्राम शोभापुर में पुलिस सहायता केंद्र को अपग्रेड कर थाना बनाने की मांग अब जोर पकड़ती जा रही है। तथा थाना बनाने की मांग को लेकर आगामी रणनीति बनाने के लिए गत दिवस एक बैठक ग्राम में राममंदिर परिसर में की गई है। बैठक में ग्रामीणों ने बात उठाई कि शोभापुर व आसपास के क्षेत्र में अपराध दर बढ़ रही है और पुलिस सहायता केंद्र का अपर्याप्त बल अब स्थिति नियंत्रण में सक्षम नहीं है। इसलिए जरूरी है कि ग्राम शोभापुर में थाना बनाया जाए तथा इसके लिए राजनैतिक स्तर पर कार्रवाई प्रारंभ की जानी चाहिए। बैठक में तय किया है कि थाने के मांग के समर्थन में अब हस्ताक्षर अभियान चलाएंगे व प्रदेश सरकार तक आवाज पहुंचाई जाएगी।

Ad Block is Banned