scriptTraining given in the workshop to the participants of Hoshangabad, Har | होशंगाबाद, हरदा और बैतूल जिले के प्रतिभागियों को कार्यशाला में दिया प्रशिक्षण | Patrika News

होशंगाबाद, हरदा और बैतूल जिले के प्रतिभागियों को कार्यशाला में दिया प्रशिक्षण

ठोस एवं तरल अवशिष्ट प्रबंधन पर दो दिवसीय कार्यशाला

होशंगाबाद

Published: November 17, 2021 09:18:50 pm

होशंगाबाद/इटारसी। जिला पंचायत के तत्वाधान में ठोस एवं तरल अपषिष्ट प्रबंधन पर दो दिवसीय संभागीय कार्यशाला का शुभारंम्भ प्लेटिनम रिसोर्ट में किया गया। कार्यशाला में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के जिला समन्वयक ब्लॉक समन्वयक सहायक यंत्री एवं उपयंत्री सम्मिलित हुए। कार्यशाला में होशंगाबाद, हरदा एवं बैतूल जिले के 65 प्रतिभागी सम्मिलित हुए। प्रशिक्षण चेतन अत्रे एवं लेनिन जेकब द्वारा दिया गया।
कार्यशाला का शुभारंभ जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय श्रीवास्तव एवं कार्यपालन यंत्री कुबेर सिंह मिर्धा द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया। अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय श्रीवास्तव ने कहा कि हमारे द्वारा जिस प्रकार से ओडीएफ के समय एक माहौल बनाकर ग्रामीणों का व्यवहार परिवर्तन कर खुले से शौच मुक्त किया गया। इसी प्रकार ठोस एवं तरल अपषिष्ट प्रबंधन में भी लोागों को जागरुक कर एक माहौल बनाने की आवश्यकता है। जिससे की ग्रामों को ओडीएफ प्लस किया जा सके। कार्यपालन यंत्री कुबेर सिंह मिर्धा ने बताया कि प्रत्येक ग्राम एक ठोस कार्ययोजना बनाने की आवश्यकता है, जिसमें ग्राम स्तर पर समिति बनाये ग्रामीणों को जागरुक करें। रिसोर्स पर्सन चेतन अत्रे ने तरल अवशिष्ट प्रबंधन के बारे में ग्रे, यलो, ब्लेक, कमर्शियल वॉटर की जानकारी दी। कार्यशाला के प्रथम दिवस जिला समन्वयक प्रीती वरकड़े द्वारा सभी प्रतिभागीयों एवं रिसोर्स पर्सन का आभार व्यक्त किया गया।
Patrika Logo
पत्रिका लोगो
होशंगाबाद, हरदा और बैतूल जिले के प्रतिभागियों को कार्यशाला में दिया प्रशिक्षण
ठोस एवं तरल अवशिष्ट प्रबंधन पर दो दिवसीय कार्यशाला
होशंगाबाद/इटारसी। जिला पंचायत के तत्वाधान में ठोस एवं तरल अपषिष्ट प्रबंधन पर दो दिवसीय संभागीय कार्यशाला का शुभारंम्भ प्लेटिनम रिसोर्ट में किया गया। कार्यशाला में स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के जिला समन्वयक ब्लॉक समन्वयक सहायक यंत्री एवं उपयंत्री सम्मिलित हुए। कार्यशाला में होशंगाबाद, हरदा एवं बैतूल जिले के 65 प्रतिभागी सम्मिलित हुए। प्रशिक्षण चेतन अत्रे एवं लेनिन जेकब द्वारा दिया गया।
कार्यशाला का शुभारंभ जिला पंचायत के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय श्रीवास्तव एवं कार्यपालन यंत्री कुबेर सिंह मिर्धा द्वारा दीप प्रज्वलन कर किया गया। अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय श्रीवास्तव ने कहा कि हमारे द्वारा जिस प्रकार से ओडीएफ के समय एक माहौल बनाकर ग्रामीणों का व्यवहार परिवर्तन कर खुले से शौच मुक्त किया गया। इसी प्रकार ठोस एवं तरल अपषिष्ट प्रबंधन में भी लोागों को जागरुक कर एक माहौल बनाने की आवश्यकता है। जिससे की ग्रामों को ओडीएफ प्लस किया जा सके। कार्यपालन यंत्री कुबेर सिंह मिर्धा ने बताया कि प्रत्येक ग्राम एक ठोस कार्ययोजना बनाने की आवश्यकता है, जिसमें ग्राम स्तर पर समिति बनाये ग्रामीणों को जागरुक करें। रिसोर्स पर्सन चेतन अत्रे ने तरल अवशिष्ट प्रबंधन के बारे में ग्रे, यलो, ब्लेक, कमर्शियल वॉटर की जानकारी दी। कार्यशाला के प्रथम दिवस जिला समन्वयक प्रीती वरकड़े द्वारा सभी प्रतिभागीयों एवं रिसोर्स पर्सन का आभार व्यक्त किया गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने छोड़ी कांग्रेस, सोनिया गांधी को सौंपा अपना इस्तीफाRepublic Day 2022: आज होगी वीरता पुरस्कारों की घोषणा, गणतंत्र दिवस से पूर्व राजधानी बनी छावनीRepublic Day 2022: गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने जारी की एडवाइजरी, घर से निकलने से पहले जरूर जान लेंDelhi: सीएम केजरीवाल का ऐलान, अब सरकारी दफ्तरों में नेताओं की जगह लगेंगी अंबेडकर और भगत सिंह की तस्वीरेंशरीयत पर हाईकोर्ट का अहम आदेश, काजी के फैसलों पर कही ये बातUP Election Campaign :मायावती दो फरवरी से करेंगी प्रचार का आगाज, आगरा में होगी पहली जनसभा7th Pay Commission: कर्मचारियों में खुशी की लहर, जल्द खाते में आएंगे पैसे, एलाउंस भी मिलेगापुलिस को देखकर फिल्मी स्टाइल में बेरिकेट तोड़कर भागे तस्कर, जब जवानों ने की चेकिंग तो मिला डेढ़ करोड़ का गांजा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.