खाता धारकों के खाते हो सकते है बंद

बिना आधार लिंक खातों से बंद होगा लेन-देन जनधन खातों में पैसे तो आ गए, लेकिन खातों का नहीं हो रहा अपडेशन

By: harinath dwivedi

Published: 11 Sep 2017, 12:17 PM IST

होशंगाबाद. बैंकों ने खाता धारकों को आधार लिंक करवाना अनिवार्य कर दिया है। यदि इसी महीने खाते से आधार लिंक नहीं करवाया तो उपभोक्ता अगले महीने से खातों में लेन-देन नहीं कर पाएंगे। जिले में सभी बैंक शाखाओं में सैकड़ों उपभोक्ताओं ने अभी भी अपने खाते से आधार नंबर लिंक नहीं कराया है। अब सरकार ने स्पष्ट कर दिया है कि सितंबर के बाद बिना आधार लिंक वाले बैंक खातों से किसी भी प्रकार का लेन-देन नहीं होगा।
इतने खातों में लिंक नहीं आधार
बैंक का नाम                                              बैंक खाते           आधार नहीं लिंक
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (आरआरबी)            43375                3260
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया                                 147252             31967
बैंक ऑफ इंडिया                                       44493                 6970
पंजाब नेशनल बैंक                                    40422                1426
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (पीएसबी)              27589                    3772
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया                           7306                  1948
यूको बैंक                                                    8145                   334
ओबीसी बैंक                                               3538                  595
केनरा बैंक                                                  5123                   792
बैंक ऑफ बड़ोदा                                          7639                     584
देना बैंक                                                    4153                    591
इलाहाबाद बैंक                                         3009                    92
जनधन खातों में अधिकतर खातों का संचालन नहीं हो रहा है। अपडेशन नहीं होने और आधार लिंक नहीं होने से उपभोक्ता सितंबर के बाद खाते से लेन-देन नहीं कर पाएंगे। बिना आधार लिंक सामान्य खातों से भी लेन-देन बंद हो जाएगा।

आरके त्रिपाठी, लीड बैंक मैनेजर
बैंकों को ही करनी होगी व्यवस्था
जिन उपभोक्ताओं के पास आधार नंबर है उन्हें अपना आधार नंबर खातों से लिंक कराना होगा। साथ ही ऐसे उपभोक्ता जिनके पास आधार कार्ड नहीं हैं उनके आधार कार्ड बनवाने की जिम्मेदारी भी बैंक प्रबंधन की होगी। अब बैंक प्रबंधन द्वारा अपने-अपने बैंकों में आधार कार्ड बनवाने की व्यवस्था करना होगी। इसके लिए सरकार ने एजेंसी भी इसकी जिम्मेदारी सौंप दी है। अब संबंधित बैंक प्रबंधन को अपनी शाखा में एजेंसी के कर्मचारी को स्थान उपलब्ध कराना होगा।

 

जिले की बैंकों में सबसे ज्यादा खाते स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में खोले गए थे। एसबीआई ने भले ही सबसे ज्यादा खाते खोले हों लेकिन सबसे ज्यादा राशि सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की क्षेत्रीय ग्रामीण शाखा में जमा हुए हैं। इस बैंक में 20 करोड़ 70 लाख 41 हजार 398 रूपए जमा किए गए हैं। जिले में 21 राष्ट्रीयकृत बैंक और 8 निजी बैंकों में जनधन योजना के तहत बैंक खाते खोले गए थे।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned