ट्रक ने चार्टर बस और ट्रैक्टर-ट्रॉली को टक्कर मारी, खिड़कियों के कांच तोड़कर यात्रियों को निकाला

भोपाल से हरदा जा रही थी चार्टर बस, स्टेट हाइवे हरदा रोड पर डोलरिया के पास दुर्घटनाग्रस्त

By: sandeep nayak

Published: 20 Mar 2021, 11:57 PM IST

होशंगाबाद/ स्टेट हाइवे हरदा रोड पर आयशर ट्रक चालक ने चार्टर बस और टक्कर मार दी।बस सड़क किनारे खाई में उतर गई।इसके बाद अनियंत्रित ट्रक ट्रैक्टर-ट्रॉली से टकरा गया।जिससे ट्रैक्टर पलट गया।
डोलरिया के मिसरौद कबीट वाले नाले के पास शनिवार दोपहर में हुए हादसे में दो शिक्षिकाएं घायल हो गई।बस में सिंगल गेट होने के कारणखिड़कियों से कूदने के कारण भी कई यात्रियों को चोट आई है।बस में 30 यात्री सवार थे।चार्टर बस भोपाल से हरदा जा रही थी। डोलरिया पुलिस ने फरियादी ट्रैक्टर चालक की रिपोर्ट पर आशयर ट्रक के चालक पर प्रकरण दर्ज किया है। जानकारी के अनुसार आयशर ट्रक एमपी 13 जीए 3710 ने सामने होशंगाबाद तरफ से आई चार्टर बस एमपी 09 एफए 8913 को टक्कर मारते हुए ट्रैक्टर-ट्रॉली एमपी 05 एजी 6 552 में जा घुसा। इससे ट्रैक्टर-ट्रॉली पलट गई। हादसे में बस में सवार धरमकुंडी स्कूल जा रहीं होशंगाबाद निवासी दो शिक्षिकाएं अनीता चौधरी एवं वर्षा चौधरी घायल हो गईं। पुलिस ने दुर्घटनाग्रस्त बस के यात्रियों को चालक-परिचालक के माध्यम से दूसरी बस में बैठाकर उनके गंतव्य के लिए रवाना किया। बता दें कि सिंगल गेट की इन महंगे किराए वाली हाईस्पीड चार्टर बसों में परिवहन विभाग ने परमिट-फिटनेस दे रखे हैं, जबकि सामान्य अन्य बसों के ऑपरेटरों ने इसकी शिकायतें भी की।

ट्रक ने चार्टर बस और ट्रैक्टर-ट्रॉली को टक्कर मारी, खिड़कियों के कांच तोड़कर यात्रियों को निकाला

सिंगल गेट की हाई स्पीट चार्टर बसें दौड़ रही
हाइवे पर सिंगल गेट वाली हाई स्पीड बसें दौड़ रही हैं। पिछले महीने में हुई ताबड़तोड़ चैकिंग व कार्रवाइयों के बाद भी इनकी गति पर नियंत्रण नहीं लग रहा। यह बसें ओवरटेक करते हुए दौड़ती है। इसी वजह से दुर्घटनाएं हो रही है। परिवहन विभाग ने भी इन्हें परमिट व फिटनेस दे रखे हैं, जबकि यात्रियों की सुरक्षा व बचाव के लिए बसों में चढऩे-उतरने आगे पीछे अलग-अलग दो गेट एवं इमरजेंसी बस-खिड़की का प्रावधान है।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned