मिशन यूजी एडमिनशन : लड़कों से दो गुनी सीटें मिली लड़कियों को, यह है कारण

पहली सूची में 38 प्रतिशत छात्र और 62 प्रतिशत सीटें छात्राओं को

By: sandeep nayak

Published: 01 Jul 2019, 06:38 PM IST

होशंगाबाद। यूजी की पहली सूची में सीट आवंटन कराने में लड़कियों की संख्या लड़के से अधिक है। जिले में इस बार 13 कॉलेजों में 4092 यूजी की सीटों का आवंटन किया गया था। जिले के शासकीय कॉलेजों में सिर्फ 38 प्रतिशत लड़कों को पहली सूची में स्थान मिल सका है। जबकि 62 प्रतिशत सीटें लड़कियों के पास रहीं। जिले में पहली सूची में 4092 सीटों को आवंटित किया गया है। इसमें से 2535 सीटों पर लड़कियों का कब्जा रहा। जबकि १५५७ लड़कों मिली। उच्च शिक्षा विभाग के प्रोफेसरों के अनुसार दूसरी सूची में भी लड़कियों का दबदबा रहने वाला है।

छात्रों को कम प्रवेश मिलने का कारण
जिले में 13 शासकीय महाविद्यालय हैं। इसमें से होशंगाबाद, पिपरिया, सिवनीमालवा और इटारसी में अलग कन्या महाविद्यालय हैं। शासकीय गृह विज्ञान महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. कामिनी जैन ने बताया कि अभी अगले राउंड में अधिकांश छात्र-छात्राओं के नाम आ जाएंगे। वहीं तीसरे व अंतिम राउंड तक सभी को प्रवेश मिल सकेगा। कॉलेज प्रबंधन अपने अधिकार का उपयोग करते हुए 10 प्रतिशत सीटों को बढ़ा सकता है। लेकिन इसके लिए उच्च शिक्षा विभाग से अनुमति लेनी होती है।

 

उच्च शिक्षा विभाग ने यूजी की पहली सूची गुरुवार को जारी कर दी थी। होशंगाबाद के दोनों बड़े कॉलेजों में जारी हुई पहली सूची राहत देने वाली है। शासकीय नर्मदा कॉलेज में ९९० सीटें अलॉट की हुई वहीं गल्र्स कॉलेज में ७०३ छात्राओं को सीटें अलॉट की गई। अब इसके बाद दूसरा चरण आरंभ होगा।

कहां कितनी सीटें अलॉट
शासकीय नर्मदा कॉलेज
विषय सीट अलॉट कटऑफ
बीए 286 39
बीसीए 25 48
बीकॉम 225 39.4
बीकॉम कम्प्यूटर 155 42.4
बीएससी बायोटेक 27 61
बीएससी सीबीजेड 48 58.2
बीएससी आईसी 7 52
बीएससी आईसी जूलॉजी 9 48.2
बीएससी पीसीएम 63 60.6
बीएससी सीएससी 115 41.2
बीएससी इलेक्ट्रानिक/मेथ्स 16 49
बीएससी आईटी/मेथ्स 14 62
शासकीय गृह विज्ञान महाविद्यालय
विषय सीट अलॉट कटऑफ
बीए 298 38.4
बीबीए 23 50.4
बीकॉम 85 49.8
बीकॉम कम्प्यूटर 70 58
बीएससी बायोटेक/केमेस्ट्री 18 50.6
बीएससी बायोटेक जूलॉजी 17 51.8
बीएससी प्लेन बायोलॉजी 60 57.4
बीएससी पीसीएम 39 49.4
बीएससी सीएनडी 31 42
बीएससी कम्प्यूटर साइंस 55 59.6

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned