इस शहर में कर्फ्यू जैसे रहे हालात, दूध चाय के लिए भी तरसते रहे शहरवासी

मुलताई में नजूल के विरोध में दिनभर बंद रहा नगर

By: sandeep nayak

Published: 03 Jan 2018, 08:15 PM IST

मुलताई. नजूल हटाने की मांग को लेकर बुधवार को नगर बंद रहा। नजूल के विरोध में व्यापारियों ने सुबह से शाम तक दुकानें बंद रखकर बंद को समर्थन दिया। बाजार बंद होने से लोग दैनिक उपयोग की सामग्री के साथ चाय नाश्ते तक के लिए तरस गए। इसके पहले नजूल हटाओ मंच के लोग बाईक से पूरे नगर में नजूल मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए घूमते रहे। दोपहर दो बजे फव्वारा चौक पर एक आमसभा की गई। जिसमें पूर्व विधायक सुखदेव पांसे, डॉ. सुनीलम् तथा पीआर बोडख़े एक मंच पर आए। जहां नजूल को जन विरोधी बताकर विरोध किया।
15 दिन बाद होगा आंदोलन : आमसभा के बाद लोग रैली के रूप में नारेबाजी करते हुए तहसील कार्यालय पहुंचे। जहां एसडीएम राजेश शाह को समस्या से अवगत कराते हुए समाधान की मांग की। ऐसा नहीं होने पर 15 दिन बाद आंदोलन को उग्र करते हुए चक्काजाम की चेतावनी भी दी। गौरतलब है कि एक दिन पहले ही पूर्व विधायक पांसे सहित नजूल हटाओ मंच द्वारा व्यापारियों से नजूल के खिलाफ अपनी दुकानें बंद रखने की अपील की गई थी।

सभी दलों के नेता हुए एकजुट
आमसभा में कांग्रेस के पूर्व विधायक सुखदेव पांसे, पीआर बोडख़े संजय यादव, पूर्व विधायक एवं किसान संघर्ष समिति के डॉ. सुनीलम्, समाजवादी पार्टी के अनिल सोनी, भाकपा के महेश शर्मा, भाजपा के विजय शुक्ला, अजय यादव सहित बड़ी संख्या में सभी दलों के लोग शामिल हुए। सभी ने एक स्वर में नजूल को गलत ठहराते हुए नजूल हटाने की मांग की। ताकि किसी को परेशानी न हो।
सरकार हमारी निजी जमीन छीनना चाहती
आमसभा में पूर्व विधायक सुखदेव पांसे ने भाजपा की नीतियों के खिलाफ जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि हमारी जमीन सरकार हमसे छीनना चाहती है। यह एक षडय़ंत्र है जिसे हम सफल नही होने देगें। उन्होने कहा कि लोग वर्षों से अपने मकानों में काबिज हैं लेकिन उनको नजूल के नाम पर धमकाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रशासन कैंम्प लगाकर नजूल की समस्या को हल करे।


नगर में चोरी लूट पर भी आक्रोश
पूर्व विधायक पांसे सहित अन्य नेताओं ने कहा कि नगर में लगातार चोरी तथा खुलेआम लूट हो रही है, लेकिन पुलिस प्रशासन निष्क्रिय है। वारदातों पर अंकुश नही लग रहा है, मंदिरों को भी चोर निशाना बना रहे हैं।

विधायक और नपाध्यक्ष नहीं आए
कांग्रेस नेता संजय यादव ने कहा कि यह नगर के स्वाभिमान की लड़ाई है किसी एक दल का आंदोलन नहीं यह सर्वदलीय है। ऐसे समय में यदि विधायक और नपाध्यक्ष ने जनता से दूरी बनाई है तो यह गलत है।
कैंप लगाकर समाधान की मांग : तहसील कार्यालय पहुंचे पूर्व विधायक पांसे, डॉ. सुनीलम, पीआर बोडख़े, कमल सोनी, अजय यादव,अनिल सोनी,सुखदेव सोनी सहित नागरिकों ने समस्या का समाधान कैंप लगाकर करने की मांग की। उन्होने कहा कि हमारी संपत्ति के हम भूस्वामी है इसलिए नजूल के पट्टे की फ्री होल्ड की कार्रवाई तत्काल बंद करें।

sandeep nayak Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned