अध्यक्ष के पांच और पार्षद के 149 प्रत्याशी मैदान में

अध्यक्ष के पांच और पार्षद के 149 प्रत्याशी मैदान में

Ghanshyam Rathore | Publish: Jul, 27 2017 09:13:00 PM (IST) hoshangabad

नगरीय निकाय चुनाव में गुरुवार को नामांकन वापसी के बाद मैदान में अध्यक्ष के पांच और पार्षद के 149 प्रत्याशी हैं। नगरपालिका अध्यक्ष पद के लिए 12 प्रत्याशियों ने फार्म भरे थे। जिसमें एक प्रत्याशी का फार्म निरस्त हो गया था। छह ने गुरुवार को अपना नाम वापस ले लिया है।

सारनीनगरीय निकाय चुनाव में गुरुवार को नामांकन वापसी के बाद मैदान में अध्यक्ष के पांच और पार्षद के 149 प्रत्याशी हैं। नगरपालिका अध्यक्ष पद के लिए 12 प्रत्याशियों ने फार्म भरे थे। जिसमें एक प्रत्याशी का फार्म निरस्त हो गया था। छह ने गुरुवार को अपना नाम वापस ले लिया है। नामांकन वापस लेने के बाद अब भाजपा से आरती झरबड़े, कांग्रेस से प्रियंका बलराम, शिवसेना की ओर से कल्पना पाटिल और निर्दलीय प्रत्याशियों में ज्योति नागले और आशा भारती मैदान में हैं। कविता मनोज डेहरिया द्बारा निर्दलीय फार्म उठाने के बाद भाजपा ने राहत की सांस ली है।
आज से शुरू होगा दंगल का दौर
भाजपा के दिग्गज नेता नगर पालिका परिषद सारनी चुनाव में आ सकते हैं। इसके अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का भी दो से अधिक दौरा होने की संभावना है। पिछले कार्यकाल के जनप्रतिनिधि से विकास कार्य के नाम पर भ्रष्टाचार और कमीशन खोरी ज्यादा की गई थी। कांग्रेस, शिवसेना और निर्दलीय के माध्यम से नगरीय निकाय चुनाव में यह मुद्दा भी बनाया जाएगा। इसको लेकर कांग्रेस के माध्यम से रणनीति भी तैयार की जा रही है। शुक्रवार को कांग्रेस और भाजपा के प्रत्याशियों के माध्यम से वार्डों में घूमकर जनसंपर्क का दौर शुरू कर दिया जाएगा।
भाजपा को था डेहरिया से खतरा, लिया फॉर्म वापस
भाजपा के सिम्बाल से मनोज डेहरिया ने पूर्व में पांच वर्ष तक नगरपालिका परिषद सारनी में कार्यकाल किया है। पार्टी को सबसे ज्यादा खतरा कविता मनोज डेहरिया से था। इसलिए उनको मनाने के जोरशोर से प्रयास किए थे, प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार भाजपा रुठे मनोज डेहरिया को मनाने के लिए भाजपा के जिलाध्यक्ष, चुनाव प्रभारी के अलावा स्थानीय स्तर के नेता गुरुवार सुबह से उनके घर पर डेरा डाले थे। जिसमें रंजीत सिंह, सुधा चंद्रा, कमलेश सिंह के अलावा उनकी खास मित्र की मंडली भी थी। फार्म उठाने के आखिरी समय में भाजपा जिलाध्यक्ष नगरपालिका पहुंचे और उन्होने मनोज डेहरिया के फार्म उठाने की जानकारी दी। जब तक मनोज डहेरिया ने फार्म नहीं उठाया तब तक वे नगरपालिका में ही रहे। मनोज डहेरिया जब तक नगरपालिका नही पहुंचे तब तक भाजपा कार्यकर्ता और जिलाध्यक्ष में बैचेनी रही। जैसे ही मनोज डेहरिया दोपहर 2.50 बजे नगरपालिका पहुंचे। उन्हे तुरंत रिटर्निंग अधिकारी के समक्ष ले जाया गया। जहां उनकी पत्नी ने नामांकन वापस लेने से मना कर दिया। तीन बार रिटर्निंग अधिकारी के पास से वापस आने के बाद चौथी बार में फार्म वापस लिया। कविता डेहरिया का कहना था कि पार्टी ने उनकी काफी बदनामी की है। जिससे वह फार्म वापस नहीं लेगी, अंत में उन्होंने फॉर्म वापस लिया। दूसरी ओर निर्दलीय प्रत्याशी ज्योति नागले को भी पार्टी ने मनाया, लेकिन वे नहीं मानी।


गुरूवार को छह उम्मीदवारों ने फार्म वापस लिया है। जबकि एक फार्म निरस्त हो गया था। अब पांच प्रत्याशी मैदान में हैं। पार्षदों के लिए अभी तक कुल 20 फॉर्म वापस हुए हैं। जिस पर 149 पार्षद 36  वार्ड में भाग्य आजमाएंगे।
एमएल विजयवर्गीय, रिटर्निंग अधिकारी सारनी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned