कमर्शियल क्षेत्र से वेकोलि हटाएगी बिजली, 7 दिन में व्यापारियों को लेने होंगे कनेक्शन

कमर्शियल क्षेत्र से वेकोलि हटाएगी बिजली, 7 दिन में व्यापारियों को लेने होंगे कनेक्शन
traders will have to take connections

yashwant janoriya | Updated: 13 Sep 2019, 11:05:26 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर, एसडीएम ने वेकोलि प्रबंधन और वितरण कंपनी के अधिकारियों के साथ की बैठक

सारनी. डब्ल्यूसीएल के कमर्शियल क्षेत्र में व्यापारियों और ट्रांसफार्मर से 50 मीटर के भीतर निवासरत लोगों को वितरण कंपनी से बिजली कनेक्शन लेने होंगे। इसके लिए प्रशासन द्वारा सात दिनों की मोहलत भी दी गई है। दरअसल, जिन क्षेत्रों में वितरण कंपनी ने बिजली आपूर्ति प्रारंभ कर दी है। उन क्षेत्रों में आज भी डब्ल्यूसीएल की बिजली का भरपूर उपयोग किया जा रहा है। इससे कंपनी पर बोझ बढ़ रहा है। ऊपर से जब भी बिजली कनेक्शन काटने अमला पहुंचता है तब राजनीति हो जाती और बिजली अमला को बैरंग लौटना पड़ता था। इसे गंभीरता से लेकर वेकोलि प्रबंधन ने कलेक्टर को पत्र लिखा था। शुक्रवार को अपर कलेक्टर साकेत मालवीय, एसडीएम कुमार शानू, तहसीलदार भगवानदास तमखानिया पाथाखेड़ा पहुंचे। यहां रेस्ट हाउस में वेकोलि प्रबंधन और नपा सीएमओ, वितरण कंपनी के अधिकारियों के साथ बैठक कर समस्या सुनी। फिर पाथाखेड़ा क्षेत्र का निरीक्षण कर जिन क्षेत्रों में वितरण कंपनी ने बिजली सप्लाई शुरू कर दी है।वहां के व्यापारियों और 50 मीटर के भीतर रहने वाले लोगों को एक सप्ताह के भीतर बिजली कनेक्शन लेने आवेदन करने का निष्कर्स निकाला।दरअसल जिन क्षेत्रों में वितरण कंपनी ने कनेक्शन दे दिए हैं। वहां भी डब्ल्यूसीएल की बिजली का उपयोग हो रहा है। इसी से नाराज होकर कंपनी ने समस्या के निराकरण के लिए कलेक्टर को पत्र लिखा था।
जय स्तंभ से करेंगे विस्थापित
मप्र पॉवर जनरेटिंग कंपनी के सिविल विभाग द्वारा नवरात्र पर्व को देखते हुए जय स्तंभ और आसपास से अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की जा रही थी। जिसका विरोध होने और प्रशासन तक शिकायतें पहुंचने के बाद गुमठीवालों को हटाने के बजाए विस्थापित करने का निर्णय लिया है। इसी को लेकर शुक्रवार को एसडीएम, तहसीलदार द्वारा चिन्हित स्थानों का निरीक्षण किया।फिर बरसात थमने के बाद गुमठीवालों को विस्थापित करने का निर्णय लिया है। इस मौके पर एसडीएम से जय स्तंभ के व्यापारियों ने चर्चा कर समस्या भी बताई। इस अवसर पर सिविल विभाग के अतिरिक्त मुख्य अभियंता संजय पेंडोर, सिविल अधिकारी मंगल सिंह धुर्वे, नपा सीएमओ सीके मेश्राम, सतपुड़ा व्यापारी संघ अध्यक्ष विनय मालवीय समेत व्यापारीगण उपस्थित थे। तत्पश्चात नपा कार्यालय में एसडीएम, सीएमओ और तहसीलदार की बैठक हुई।
अतिक्रमण हटाने का किया विरोध
भारतीय जनता पार्टी मंडल सारनी ने सिविल विभाग द्वारा की जा रही अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई का विरोध किया है। इसको लेकर कलेक्टर के नाम ज्ञापन एसडीओपी को सौंपा है। जिसमें भाजपा मंडल सारनी ने बताया कि क्षेत्र में रोजगार के साधन लगातार कम हो रहे हैं। गुमठीनुमान दुकान लगाकर जैसे-तैसे लोग अपना घर परिवार चला रहे हैं। ऐसे में अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई करने से लोगों में भारी रोष है। बावजूद इसके अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की गई तो भाजपा आंदोलन करेगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned