Video: ग्रामीणों ने लगाया कांग्रेस पूर्व जिलाध्यक्ष पर अवैध खनन का आरोप, वीडियो पर हुए वायरल

खनिज मंत्री के पीआरओ के जनपद लेखापाल भाई का वीडियो भी वायरल

By: poonam soni

Published: 14 Feb 2020, 01:27 PM IST

होशंगाबाद। पवारखेड़ा खुर्द की पंचायत रेत खदान की आड़ में ग्रामीणों के खेतों में रेत के अवैध उत्खनन करने का मामला सामने आया है। गुरुवार सुबह को ग्रामीणों ने प्रदर्शन करते हुए कांग्रेस के पूर्व जिलाध्यक्ष कपिल फौजदार पर अवैध खनन करने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी की। अवैध खनन के संबंध मेें तीन वीडियो दिनभर सोशल मीडिया पर वायल होते रहे।

यह है तीनों वीडियो में
वीडियो 1 : वायरल वीडियो में कुछ ग्रामीणजन, खेत मालिक अवैध खनन बंद करो, कपिल फौजदार तेरी तानाशाही नहीं चलेगी। सरपंच दिनेश मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए दिखाई दे रहे हैं।

वीडियो 2 : इसमें खेत मालिक अशोक ने आरोप लगाया है कि गलत नपती कर उसके व चाचा की करीब दस एकड़ जमीन में से अवैध खनन कराया जा रहा है। पंचायत की खदान फौजदार चलवा रहे हैं। इसलिए आरआई-पटवारी से लेकर कलेक्टर तक से 10-15 शिकायतें करने के बाद कोई कार्रवाई नहीं हो रही।

वीडियो 3 : इसमें खनिज मंत्री के पीआरओ रामसिंह मीना का भाई जो कि जनपद में लेखापाल है, वह ग्रामीणों को रेत खनन व गाडिय़ों को भरने को लेकर धमका रहा है। ग्रामीण खनन का विरोध करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

खनिज अमले ने पकड़े सात ओवर लोड डंपर
होशंगाबाद. जिला खनिज विभाग के अमले ने गुरुवार को हाइवे सहित आसपास के क्षेत्र में सर्चिंग कर सात ओवरलोड डंपर-ट्रकों को पकड़ा है। इनमें तीन रेत एवं चार गिट्टी-मुरम के हैं। खनिज निरीक्षक पुष्पेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि जिला खनिज अधिकारी महेंद्र पटेल के मार्गदर्शन में टीम ने रेत से ओवरलोड एमपी 04 एचई 3949, एमपी 09 एचजे 8 8 22, एमपी 09 जीएफ 0337 एवं गिट्टी से भरा एमपी 04 एचई 2352, मुरम से भरे एमपी09 एचएच 5295, एमपी13 एच 0453 एवं एमपी04 एचएच 5978 जब्त किया है। उक्त वाहनों को जब्त कर पुलिस अभिरक्षा में खड़े कराया है। वाहन चालकों के खिलाफ ओवरलोड के प्रकरण बनाए जा रहे हैं।


कंप्यूटर बाबा नहीं आए, लोडर का पता नहीं चला
इधर, नदी न्यास के अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा गुरुवार को होशंगाबाद नहीं आए। वे रायसेन के बरेली क्षेत्र में भ्रमण पर रहे। बाबा को दो दिनी भ्रमण पर होशंगाबाद आना था। ज्ञात रहे पिछले दिनों बाबा ने पीलीकरार-जासलपुर टील के सरकारी रकबे से अवैध खनन पकड़ा था। मौके से लोडर सहित हाइवा व ट्रक जब्त कराए थे, लेकिन बाबा के जाते ही लोडर को रेत माफिया पुलिस सुरक्षा से छुड़ा ले गए थे। जिसका अभी तक कोई पता नहीं चल सका है।

ऐसा गड़बड़झाला भी : ट्रैक्टर-ट्रॉली की कट रही 23 घनमीटर की रायल्टी
पंचायत खदान से काटी जा रही रेत रायल्टी की पर्ची में टै्रक्टर-ट्रॉली में 23 घनमीटर (8 10 फीट) की दर्शाई जा रही। जबकि ट्रॉली में इतनी रेत आती ही नहीं है। ट्रॉली की क्षमता डेढ़ सौ फीट रेत की है।

जनसुनवाई में भी हो चुकी है शिकायत
4 फरवरी को लोकेंद्र राजपूत ने कलेक्टर की जनसुनवाई में पवारखेड़ा खुर्द पंचायत खदान के गलत अनुबंध व अवैध खनन की शिकायत की थी। इसमें भी राजपूत ने सरपंच दिनेश सरयाम, कपिल फौजदार, गिल्ला, सम्राट, घनश्याम मीना, कुंवर सेन की नामजद शिकायत की थी। जिस पर अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

कपिल फौजदार और अधिकारियों ने फोन रिसीव नहीं किए
मामले में कांग्रेस नेता कपिल फौजदार से जब पक्ष जानने की कोशिश की गई तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किए। इधर, कलेक्टर धनंजय सिंह सहित जिला खनिज अधिकारी महेंद्र पटेल से भी पत्रिका ने शिकायत व आरोप के संबंध में जानकारी लेनी चाहिए, लेकिन इन्होंने भी फोन रिसीव नहीं किए।

इनका कहना है...
पवारखेड़ा खुर्द की पंचायत खदान को लेकर शिकायतें आई हैं। जांच जारी है। जो वीडियो वायरल हुए हैं और खेत मालिकों-ग्रामीणों की शिकायतें हैं उनकी भी जांच कराई जाएगी।
- केडी त्रिपाठी, एडीएम होशंगाबाद

Show More
poonam soni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned