पंचायत के सामने धरने पर बैठे ग्रामीण, बिजली लाइन जोड़कर की गई पेयजल सप्लाई

१४ लाख रुपए बिल बकाया होने पर काट दिया गया था बिजली कनेक्शन

By: Manoj Kundoo

Published: 17 Sep 2021, 09:14 PM IST

इटारसी/तवानगर
होशंगाबाद और हरदा जिले की प्यास बुझाने वाले तवानगर (रानीपुर) के रहवासी पिछले तीन दिनों से जलसंकट का सामना कर रहे थे। मामले में पत्रिका ने प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी। जिसके बाद ग्रामीणों ने मोर्चा खोलते हुए गुरुवार को दोपहर १२ बजे से पंचायत भवन के सामने धरने पर बैठ गए। ग्रामीणों ने चार घंटे तक प्रदर्शन किया। इस दौरान मौके पर पहुंचकर अधिकारियों ने बिजली लाइन जुड़वाकर पेयजल सप्लाई सुचारू कर दी।
तवानगर (रानीपुर) ग्राम पंचायत के लोग पिछले तीन दिनों से पेयजल के लिए परेशान हो रहे ेथे। ज्ञात हो कि पंचायत का लगभग १४ लाख रुपए बिजली बिल बकाया होने की वजह से बिजली कंपनी ने सोमवार को कनेक्शन काट दिया था। जिसके बाद से यहां पेयजल की सप्लाई पूरी तरह ठप हो गई थी। पेयजल की समस्या से जूझ रहे लोग हैंड़पंपों से पेयजल की आपूर्ति करने की जद्दोजहद कर रहे थे। इसी बात से नाराज ग्रामीणों ने गुरुवार को धरना प्रदर्शन कर मांग पत्र सौंपा। धरना प्रदर्शन के दौरान नायब तहसीलदार निधि पटेल और केसला जनपद सीइओ वंदना कैथल ने पहुंचकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी। अधिकारियों ने मौके पर ही बिजली लाइन चालू करवाकर पेयजल व्यवस्था को सुचारू किया। जिसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ। अधिवक्ता भूपेश साहू ने बताया कि पेयजल समस्या के साथ ही गांव में मोबाइल नेटवर्क की समस्या के संबंध में अधिकारियों को ज्ञापन दिया गया। धरना प्रदर्शन के दौरान मुरारीलाल रघुवंशी, मनोहर सहगल, सलीम खान, मुकेश पठारिया, राजेंद्र ठाकुर, नारायण सिंह ठाकुर, नितिन बिछोतिया, अजावराव देशमुख, राजेश आठनेरे, आदित्य ठाकुर, नेपाल राव, नंदकिशोर सराठे, कृष्णा रघुवंशी सहित अन्य ग्रामीण मौजूद थे।

इनका कहना है...
पंचायत का बिजली बिल करीब १४ लाख रुपए बकाया था। इसी वजह से बिजली कंपनी ने लाइन काट दी थी। बिजली कनेक्शन को जुड़वाकर पेयजल समस्या का समाधान कर दिया गया है।
-निधि पटेल, नायब तहसीलदार

पंचायत के सामने धरने पर बैठे ग्रामीण, बिजली लाइन जोड़कर की गई पेयजल सप्लाई
-१४ लाख रुपए बिल बकाया होने पर काट दिया गया था बिजली कनेक्शन
इटारसी/तवानगर
होशंगाबाद और हरदा जिले की प्यास बुझाने वाले तवानगर (रानीपुर) के रहवासी पिछले तीन दिनों से जलसंकट का सामना कर रहे थे। मामले में पत्रिका ने प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी। जिसके बाद ग्रामीणों ने मोर्चा खोलते हुए गुरुवार को दोपहर १२ बजे से पंचायत भवन के सामने धरने पर बैठ गए। ग्रामीणों ने चार घंटे तक प्रदर्शन किया। इस दौरान मौके पर पहुंचकर अधिकारियों ने बिजली लाइन जुड़वाकर पेयजल सप्लाई सुचारू कर दी।
तवानगर (रानीपुर) ग्राम पंचायत के लोग पिछले तीन दिनों से पेयजल के लिए परेशान हो रहे ेथे। ज्ञात हो कि पंचायत का लगभग १४ लाख रुपए बिजली बिल बकाया होने की वजह से बिजली कंपनी ने सोमवार को कनेक्शन काट दिया था। जिसके बाद से यहां पेयजल की सप्लाई पूरी तरह ठप हो गई थी। पेयजल की समस्या से जूझ रहे लोग हैंड़पंपों से पेयजल की आपूर्ति करने की जद्दोजहद कर रहे थे। इसी बात से नाराज ग्रामीणों ने गुरुवार को धरना प्रदर्शन कर मांग पत्र सौंपा। धरना प्रदर्शन के दौरान नायब तहसीलदार निधि पटेल और केसला जनपद सीइओ वंदना कैथल ने पहुंचकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी। अधिकारियों ने मौके पर ही बिजली लाइन चालू करवाकर पेयजल व्यवस्था को सुचारू किया। जिसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा शांत हुआ। अधिवक्ता भूपेश साहू ने बताया कि पेयजल समस्या के साथ ही गांव में मोबाइल नेटवर्क की समस्या के संबंध में अधिकारियों को ज्ञापन दिया गया। धरना प्रदर्शन के दौरान मुरारीलाल रघुवंशी, मनोहर सहगल, सलीम खान, मुकेश पठारिया, राजेंद्र ठाकुर, नारायण सिंह ठाकुर, नितिन बिछोतिया, अजावराव देशमुख, राजेश आठनेरे, आदित्य ठाकुर, नेपाल राव, नंदकिशोर सराठे, कृष्णा रघुवंशी सहित अन्य ग्रामीण मौजूद थे।

इनका कहना है...
पंचायत का बिजली बिल करीब १४ लाख रुपए बकाया था। इसी वजह से बिजली कंपनी ने लाइन काट दी थी। बिजली कनेक्शन को जुड़वाकर पेयजल समस्या का समाधान कर दिया गया है।
-निधि पटेल, नायब तहसीलदार

Manoj Kundoo Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned