scriptWill teach water management to people, 75 new ponds will be built | इस जिले में लोगों को सिखाएंगे वॉटर मैनेजमेंट, 75 नए तालाब बनेंगे | Patrika News

इस जिले में लोगों को सिखाएंगे वॉटर मैनेजमेंट, 75 नए तालाब बनेंगे

-जलकशल यात्राएं निकलेंगी, जल सम्मेलन के साथ जल संवाद-संसद लगेगी
-पुष्कर अभियान एवं अमृत सरोवर में नई-पुरानी संरचनाओं का होगा सुधार
-तालाब-बाबडिय़ों में मछलीपालन, सिंघाड़ा उत्पादन व सिंचाई का विस्तार करेंगे
-जन चेतना और जनसहयोग के माध्मय से चलेगा जिले में जलाभिषेक अभियान

होशंगाबाद

Published: April 01, 2022 09:40:57 pm

नर्मदापुरम. प्रदेश के जिलों के साथ ही नर्मदापुरम जिले में भी बारिश के जल संचय व संवर्धन के लिए 4 अप्रेल के बाद से जलाभिषेक अभियान शुरू होगा। इसे जन चेतना और जनसहयोग के माध्मय से चलाया जाएगा। इसमें आमजन को जल के प्रति जागरूक कर जल के अपव्यय को रोकने के प्रयास होंगे। जिले में अभियान तीन चरण में चलेगा। प्रथम चरण में सभी ग्राम पंचायतों में जलकलश यात्राएं निकलेगी और जल सम्मेलन किए जाएंगे। दूसरे चरण में जनपद स्तर पर जल संवाद व जिला स्तर पर जल संसद लगेगी। तीसरे चरण में पुष्कर अभियान एवं अमृत सरोवर में नई-पुरानी संरचनाओं का सुधार होगा। जल संवर्धन-संरक्षण के कार्य किए जाएंगे। इसमें कंटूमेंट, स्टॉप डेम, चैक डेम, तालाब, खेत तालाब, गेबियन स्ट्रक्चर सहित अन्य छोटी-बड़ी जल संरचनाओं के जीर्णोद्धार कार्य शामिल किए गए हैं। नलजल वाली ग्राम पंचायतों में रिचार्ज फास्ट भी बनेंगे।
इस जिले में लोगों को सिखाएंगे वॉटर मैनेजमेंट, 75 नए तालाब बनेंगे
इस जिले में लोगों को सिखाएंगे वॉटर मैनेजमेंट, 75 नए तालाब बनेंगे
तालाबों में मछलीपालन, सिंघाड़ा की खेती होगी
जलाभिषेक अभियान में पुष्पक धरोहर योजना के तहत कार्य होंगे, जिसमें पुरानी सरंचनाओं को सुधारकर अधिक से अधिक उपयोगी बनाकर आजीविका का साधन बनाया जाएगा। इसमें मछली पालन, सिंघाड़ा उत्पादन शुरू कराकर खेती के लिए सिंचाई सुविधा विस्तार होगा। इस बार जिले में 75 नए तालाबों के निर्माण कार्य किए जाएंगे, ताकि आगामी बारिशकाल में इसमें जल संचित हो सके।

अमृत महोत्सव में हर जिले में 75 नए तालाब
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के व्दारा घोषित आजादी के अमृत महोत्सव के तहत नर्मदापुरम के साथ ही हर जिले में कम से कम 75 नए तालाबों का निर्माण की योजना बनाई गई है। प्रत्येक ग्राम पंचायत में जल संरचनाओं के निर्माण, पुरानी में सुधार के कार्य होंगे।
पुष्कर धरोहर में सुधार, अमृत सरोवर में नए काम
जिला पंचायत के सीईओ मनोज सरियाम ने बताया कि जिले में पुष्कर धरोहर के अंतर्गथ पुरानी जल संरचनाओं के जीणोद्धार के कार्य एवं अमृत सरोवर में नवीन जल संरचनाएं (तालाब) निर्मित होंगी। नवीन संरचनाओं में मुख्य तौर पर चैक डेम, स्टॉप डैम और तालाब बनेंगे। ये सभी काम में मनरेगा का बंधन नहीं रहेगा, बल्कि कृषि विकास विभाग, डब्ल्यूआरडी, पीएचई की राशि से भी कार्य कराए जा सकेंगे। पुष्कर धरोहर में 500 से अधिक पुरानी सरंचनाएं सुधारी जाएगी। तालाब, चैक डैम, स्टॉप डैम भी बनेंगे।
जिले में चल रहे जल संरक्षण के 2500 कार्य
वर्तमान में नर्मदापुरम जिले में चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 में करीब 2500 से अधिक काम चल रहे हैं। करीब 2 हजार काम पूर्ण किए जा चुके हैं। इन्हें मनरेगा, पुष्कर धरोहर व अमृत सरोवर के तहत चलाया गया है।
पानी को बचो कहां कितने कार्य चल रहे
कार्य - संख्या
सोख्ता गड्ढे: 900
नाडेप : 500
खेत तालाब : 400
सरकारी भवनों में रैन वॉटर हार्वेस्टिंग: 350
बाढ़ नियंत्रण कार्य: 150
नए तालाब निर्माण : 75
जीर्णोद्धार के कार्य: 50
तालाब गहरीकरण : 30
इनका कहना है...
जिले में अप्रेल माह में जलाभिषेक अभियान चलेगा। इसमें नई जल संरचनाओं में 75 तालाबों का निर्माण करना है। जिन पुरानी और खराब हो चुकी जल सरंचनाएं हैं, उन्हें आइडेंटीफाइ कर इनमें आवश्यक सुधार कार्य कराए जाएंगे। हर गांव में कार्य होंगे। तालाब, पुरानी बाबडिय़ों, स्टॉप डैम, नर्मदापुरम के फेफरताल तालाब का भी सौंदर्यीकरण व आवश्यक कार्य कराकर इसे पर्यटन स्थल के रूप में विकसित कराया जाएगा।
-नीरज कुमार सिंह, कलेक्टर नर्मदापुरम।
.......

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.