इधर, दो दर्जन किसानों के 14 लाख रुपए अटके, यह है कारण

इधर, दो दर्जन किसानों के 14 लाख रुपए अटके, यह है कारण

Sandeep Nayak | Publish: Mar, 17 2019 05:39:48 PM (IST) | Updated: Mar, 17 2019 05:39:49 PM (IST) Hoshangabad, Hoshangabad, Madhya Pradesh, India

समर्थन मूल्य पर उड़द और मूंग खरीदी का मामला, सोसाइटी ने दो बार भेजा रिमाइंडर

होशंगाबाद। कृषि उपज मंडी परिसर में मिसरोद सोसाइटी ने समर्थन मूल्य पर उड़द और मूंग की खरीदी की थी। सोसाइटी का करीब 14 लाख रुपए का भुगतान अब भी अटका है। यह राशि 27 किसानों की है। हम्माली और कमीशन को जोड़कर यह राशि करीब 16 लाख रुपए हो जाती है। भुगतान नहीं होने से किसान सोसाइटी के चक्कर लगा रहे हैं।
मामले में सोसाइटी ने दो बार जिला विपणन संघ कार्यालय को पत्र भी लिखा हैं लेकिन अब तक राशि नहीं मिली। यह खरीदी 19 जनवरी 2019 से 25 जनवरी के बीच हुई थी।

1969 क्विंटल की हुई थी खरीदी
मिसरोद सोसाइटी ने कृषि उपज मंडी में 244 किसानों से करीब 1807.50 क्विंटल उड़द और 161.50 क्विंटल मूंग खरीदी गई थी। अब भी 27 किसानों की राशि का भुगतान होना बाकी है।

 

इतना भुगतान, इतना बकाया
उपज बेचने वाले कुल किसान-244
किसानों से खरीदी गई कुल उपज-1969 क्विंटल
उपज की भुगतान योग्य कुल राशि- 1 करोड़ 12 लाख 48 हजार 162 रुपए
भुगतान लेने वाले किसान - 217 किसान
217 किसानों को बांटी राशि- 97 लाख 55 हजार 437 रुपए
भुगतान से वंचित किसान- 27 किसान
27 किसानों की बकाया राशि- 14 लाख 92 हजार 725 रुपए
कमीशन की बकाया राशि- 1 लाख 12 हजार 464 रुपए
हम्माली की बकाया राशि- 30 हजार 519

16 लाख रुपए बकाया
सोसाइटी को किसानों का भुगतान, कमीशन व हम्माली मिलाकर करीब 16 लाख रुपए बकाया है। भुगतान नहीं मिलने से किसानों को परेशान होना पड़ रहा है। सोसाइटी ने दो बार डीएमओ कार्यालय में इस संदर्भ में पत्र लिखे हैं मगर अभी तक भुगतान नहीं हो पाया है।
आशीष गौर, केंद्र प्रभारी मिसरोद सोसाइटी

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned