शर्मसार हुई मानवता : बोरी में लपेटकर ले जाना पड़ा महिला का शव...देखें वीडियो

harinath dwivedi

Publish: Oct, 13 2017 03:45:28 (IST) | Updated: Oct, 14 2017 11:43:41 (IST)

Hoshangabad, Madhya Pradesh, India
शर्मसार हुई मानवता : बोरी में लपेटकर ले जाना पड़ा महिला का शव...देखें वीडियो

बस ने कुचला था महिला को, पुलिस मांगती रही मदद लेकिन भीड़ से कोई नहीं आया शव उठवाने

होशंगाबाद। बस स्टैंड रोड पर एक बार फिर मानवता शर्मशार हो गई। एक महिला को बस ने कुचल दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। बार-बार फोन करने के बाद भी शव वाहन नहीं आया। पुलिस वाले आए तो शव उठवाने के लिए लोगों से मदद मांगते रहे लेकिन तमाशाबीन बनी भीड़ से कोई नहीं आया। बाद में पुलिस वालों ने एक लोडिंग आटो में दो लड़कों की मदद से बोरी में लपेटकर लाश उठाकर रखी। जो महिला शांति बाई हादसे की शिकार हुई, उसके पति की चार महीने पहले ही मौत हुई है। वह अपने पड़ोसी के साथ अस्पताल प्रमाण पत्र बनवाने जा रही थी ताकि उसे पेंशन मिलने लगे।

 


यह दुर्घटना फौजदार पेट्रोल पंप के पास शुक्रवार दोपहर को हुई। पिपरिया से भोपाल जा रही कटियार बस ने बाइक सवार शांति बाई (50) को कुचल दिया। शांति का सिर बस के पहिया के नीचे आ गया था, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वह बाबई के झालौन की रहने वाली थी और पड़ोसी कमल सिंह के साथ बाइक से जिला अस्पताल जा रही थी। कमल सिंह ने बताया कि उसके पति शंकरलाल आदिवासी की चार महीने पहले ही मौत हुई है। उसके चार बच्चे हैं। वह शंकर का मृत्यु प्रमाण पत्र लेने जिला अस्पताल जा रहे थे, जिससे शांति को पेंशन मिल सके। लेकिन रास्ते में यह हादसा हो गया। टक्कर लगने से वह दूर गिर गया था, जिससे बाल-बाल बच गया। पुलिस ने कटियार बस केए07-7446 के चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर बस जब्त कर ली है।
आधा घंटे सड़क पर पड़ी रही लाश : हादसे के बाद तत्काल डायल-100 और संजीवनी को फोन किया लेकिन कोई वाहन नहीं आया। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची। शव वाहन बुलाने के लिए भी फोन लगाए गए लेकिन कोई रिस्पांस नहीं मिला। इसके बाद पुलिस ने लोडिंग आटो रोका, उसमें शव रखकर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल ले गए। शव उठाने के लिए भी कोई सामने नहीं आया तो लोडिंग आटो में रखे बोरी के त्रिपाल में लपेट कर उठाना पड़ा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned