छह माह बाद किस्मत ने दोबारा नहीं दिया साथ...जानें है यह मामला

घर में फंदा लगाकर युवक ने की आत्महत्या, छह महिने पहले भी किया था प्रयास

By: devendra awadhiya

Published: 09 Dec 2017, 02:45 PM IST

होशंगाबाद। ईशान परिसर के फेज-2 में १८ वर्षीय राजेश मस्कोले की लाश पड़ोसी के निर्माणाधीन मकान में फांसी पर लटकी मिली। वह मानसिक रूप से विक्षिप्त था और छह महीने पहले भी उसने आत्महत्या का असफल प्रयास किया था। उस समय वह बच गया था। एसआई जितेंद्र वैष्णव ने बताया कि ललिताबाई मस्कोले का छोटा पुत्र राजेश गुरुवार रात करीब 12 बजे खाना खाकर सोया था। इसके पहले उसने भांजी को खिलाया। देर रात में उठकर राजेश ने पड़ोसी ऊषा श्रीवास्तव के नवनिर्मित मकान में जाकर नाइलोन की रस्सी से फंदा लगाकर फांसी लगा ली। सुबह छह बजे उठने के बाद मां को घटना का पता चला। सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंच फंदे से शव को उतारा। पुलिस की पूछताछ में पता चला है कि मृतक राजेश करीब 10 वर्ष से मानसिक रूप से बीमार चल रहा था। मां ललिता झाडफ़ूंक कराकर चुकी है। अस्पताल में भी इलाज कराया, लेकिन वह ठीक नहीं हुआ। छह महीने पहले भी उसने सुसाइड का प्रयास किया था।

छेड़छाड़ के आरोपी को एक वर्ष की सजा
बैतूल ञ्च पत्रिका. महिला से छेड़छाड़ करने वाले दोषी को न्यायालय ने एक वर्ष कठोर कारावास और ५०० रुपए अर्थदंड से दंडित किया है।
पीडि़त की ओर से पैरवी करने वाले वरिष्ठ एडीपीओ अमित राय व सचिन शंकर घोष ने बताया कि ३० जनवरी २०१४ को ग्राम खेड़ली में ३० वर्षीय महिला के साथ नितेश पिता फकीरा आदिवासी निवासी खेड़ली ने छेड़छाड़ की थी। महिला जब खेत में पानी ओल रही थी उस समय नितेश बाल्टी मांगने के बहाने से उसके पास पहुंचा और छेड़छाड़ की। महिला ने इसकी रिपोर्ट गंज थाने में कराई थी। पुलिस ने केस दर्ज कर न्यायालय में पेश किया था। न्यायिक मजिस्टे्रट प्रदीप के वरकड़े की कोर्ट में चले प्रकरण में दोनों पक्षों को सुनने के बाद आरोपी नितेश को एक वर्ष के कठोर कारावास और ५०० रुपए अर्थदंड से दंडित किया है।

------------------------------------------------

Youth committed suicide by hanging at home

devendra awadhiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned