कोरोना लेकर घूम रहे 23 विधायक, विधान सभा सत्र से पहले हुई जांच तो पता चला, सीएम बोले- स्थिति खतरनाक

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा, 'अगर ऐसा राज्य के विधायकों और मंत्रियों के साथ हो रहा है, तो कोई भी समझ सकता है कि वास्तविक स्थिति कितनी खतरनाक है।'

By: Bhanu Pratap

Published: 26 Aug 2020, 07:35 PM IST

चंडीगढ़। पंजाब विधानसभा का मानसून सत्र 28 अगस्त को है। इससे दो दिन पहले पंजाब के 117 विधायकों में से 23 कोरोनावायरस से ग्रसित पाए गए हैं। जिन की रिपोर्ट कोरोना नकारात्मक है, वही विधान सभा सत्र में भाग ले सकेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा- वास्तविक स्थिति खतरनाक

पंजाब सरकार 28 अगस्त को होने वाले एक दिन के विशेष विधानसभा सत्र से पहले सभी विधायकों का कोरोना टेस्ट करवा रही है। कुल 117 विधायकों में 23 विधायक अब तक कोरोना पॉजिटिव निकल चुके हैं। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा बुलाई गई विपक्षी मुख्यमंत्रियों की बैठक में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि सभी विधायकों से कोरोना की रिपोर्ट के लिए कहा गया है, ताकि जो निगेटिव हों वे विधानसभा के सत्र में भाग ले सकें। पंजाब के मुख्यमंत्री ने कहा, 'अगर ऐसा राज्य के विधायकों और मंत्रियों के साथ हो रहा है, तो कोई भी समझ सकता है कि वास्तविक स्थिति कितनी खतरनाक है।'

मंत्रियों को कोरोना

राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री तृप्त राजिंदर बाजवा कोरोनो वायरस संक्रमित होने वाले पहले मंत्री थे, लेकिन वे ठीक हो गए हैं और बैठकों में भाग ले रहे हैं। पिछले हफ्ते ही, जेल और सहकारिता मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। राज्य के राजस्व मंत्री गुरप्रीत कांगर और उद्योग मंत्री श्याम सुंदर अरोड़ा भी कोरोना से संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा, पंजाब विधानसभा के डिप्टी स्पीकर अजायब सिंह भट्टी भी कोरोना संक्रमित हो चुके हैं।

Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned