कोरोना काल में एक बहादुर मां की ये कहानी जरूर पढ़िए

-2 वर्षीय कोरोना पॉजि़टिव बेटी की दिन रात पीपीई किट पहन कर रही देखभाल

By: Bhanu Pratap

Published: 10 May 2020, 07:50 PM IST

पटियाला। कोविड-19 के दौरान, मातृ दिवस बहुत विशेष है। इस मौके पर 35 वर्षीय महिला मोनिका की एक विलक्षण कहानी सामने आई है। 10 वर्षीय दो पुत्रों और 2 वर्षीय एक बेटी की माँ मोनिका राजपुरा की रहने वाली है। उसकी दो वर्षीय बेटी दो हफ़्ते पहले जाँच के बाद कोरोना पॉजि़टिव पाई गई थी। उनको राजिन्द्रा अस्पताल पटियाला में एकांतवास में दाखि़ल करवाया गया था। मोनिका, पीपीई किट पहन कर अपनी नन्हीं बेटी की दिन रात देखभाल कर रही है।

दो सप्ताह हो गए

एक डॉक्टर ही भलीभांति बता सकता है कि कुछ घंटों के लिए भी इस किस्म के रक्षात्मक साजो-सामान के साथ काम करना कितना कठिन है। परन्तु इस बहादुर माँ ने 2 हफ़्तों से अधिक समय के लिए अपनी बेटी के लिए 24 घंटे यह रक्षात्मक गियर पहन कर देखभाल की है। इस किट को 24 घंटे में एक बार बदलने का मौका मिलता है।

पंजाब सरकार ने किया सलाम

मोनिका ने टेलीफोन पर बातचीत करते हुए यह स्वीकार किया है कि उसको पसीना आना, आँखों के सुरक्षा उपकरण का धुंधला होना, चेहरे के मास्क के आसपास पट्टियों की खींच या दबाव आदि कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ता था। पंजाब सरकार ने इस बहादुर और बड़े हौसले वाली माँ को मातृ दिवस पर सलाम किया है।

coronavirus
Show More
Bhanu Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned