6 साल का तेंदुआ मारकर खा गए पांच लोग, नाखून और खाल बेचने का कर रहे थे जुगाड़

  • Leopard Killing : केरल के इडुक्की जिले की है घटना, आरोपियों ने तेंदुए को फंसाने के लिए लगाया था जाल
  • तेंदुए को मारने के बाद उसका मीट पकाकर आरोपियों ने खाया

By: Soma Roy

Published: 23 Jan 2021, 10:20 PM IST

नई दिल्ली। अपने गुजारे के लिए जानवरों को तो आपने शिकार करते देखा होगा। मगर कुछ लोग लालच के चलते इन बेजुबां जानवरों को मौत के घाट उतार रहे हैं। इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली एक ऐसी घटना केरल के इडुक्की जिले से सामने आई है। जहां करीब पांच लोगों ने मिलकर एक 6 साल के तेंदुए का शिकार किया। इतना ही नहीं उन्होंने उसे पकाकर उसका मीट खाया और बाद में बची उसकी हड्डियों, नाखून और खाल समेत दूसरी चीजों को बेचने की तैयारी कर रहे थे।

ये पांच लोग जानवरों की खाल और दूसरी चीजें बेचकर मुनाफा कमाना चाहते थे। इसी के चलते उन्होंने जाल बिछाकर तेंदुए को अपना शिकार बनाया। आरोपियों ने अपने घर के पास खेत में लगभग 100 मीटर का जाल बिछाया था, जिसमें तेंदुआ फंस गया। उन्होंने उसे मारकर पकाया और उसका मीट खाया। आरोपियों की पहचान विनोद, कुरीकोस, बीनू, कुंजप्पन और विन्सेन्ट के रूप में हुई है। बताया जाता है कि तेंदुए का वजन लगभग 50 किलो था।

पुलिस को आरोपी विनोद के घर से 10 किलो तेंदुए का मांस भी बरामद हुआ है। उन्होंने तेंदुए की हत्या करने के बाद उसके दांत, नाखून और खाल को अलग कर लिया था। जिससे वो इसे आसानी से बाजार में बेच सकें। खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के आधार पर वन विभाग की ओर से इन 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मालूम हो कि तेंदुए को भारतीय वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 की अनुसूची 1 में सूचीबद्ध किया हुआ है। ऐसे में इसका शिकार करने पर अपराधी को 7 साल की सजा का प्रावधान है।

Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned