61 साल का बुजुर्ग इसलिए बन गया चोर, वजह जान चौंक जाएंगे आप

छापेमारी के दौरान पुलिस ने जो नजारा देखा देखकर पुलिसवाले भी हैरान रह गए।
पुलिस ने अकीओ थोरी नाम के शख्स के घर से चोरी की 159 साइकिल की सीटें मिली।

By: Shaitan Prajapat

Published: 26 Dec 2020, 08:48 AM IST

नई दिल्ली। आपने अब तक चोरी को लेकर कई प्रकार की घटनाए सुनी और देखी होगी। कई बार चोरी करनेे के लिए चोर ऐसा रास्ता चुनते है जिसके बारे में आमलोग सोच भी नहीं सकते है। लेकिन कहते है कि चोरी कितना भी शातिर क्यों ना हो कोई ना कोई सुराग छोड़ ही जाता है। हाल में एक जापान में चोरी को अनोखा मामला सामने आया है। यहां पर पुलिस ने 61 साल के बुजुर्ग को गिरफ्तार किया है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इस शख्स पर 159 साइकिले की सीट चुराने को आरोप लगा है।

लगातार हो रही थी चोरियां
एक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले कुछ दिनों से जापानी की राजधानी टोक्यो के ओटा वार्ड क्षेत्र में साइकिलों की लगातार चोरियां हो रही है। लोगों की शिकायत के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू की। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज का निरीक्षण किया। उसमें पाया कि एक मध्यम आयु वर्ग के साइकिल चालक की सीटें निकालने के लिए आगे निकला। इसके बाद चुपचाप उसे अपनी साइकिल में टोकरी में डाल दिया। पुलिस ने उस के बारे जानकारी जुटाकर उसके घर पर छापा मारा।

यह भी पढ़े :— बंदर ने चुराए रुपए से भरा बैग, फिर ऐसे की नोटों की बारिश, देखें वीडियो

159 साइकिल की सीटें जब्त
छापेमारी के दौरान पुलिस ने जो नजारा देखा देखकर पुलिसवाले भी हैरान रह गए। पुलिस ने अकीओ थोरी नाम के शख्स के घर से चोरी की 159 साइकिल की सीटें मिली। पुलिस ने सभी सीटों को जब्त कर लिया और उस व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया।

इसलिए बना चोर
पुलिस ने आरोपी अकीओ से इसे चोरी करने का कारण पूछा। अकीओ ने बताया कि पिछले साल किसी ने उसकी साइकिल की सीट चुरा ली थी। इसके बाद उसकी साइकिल भी चोरी हो गई। इससे दुखी होकर उसने बदला लेने की सोचकर साइकिल की सीटें चुराना शुरू कर दिया। अकीओ ने बताया कि साइकिल चोरी के कारण उसे नई साइकिल खरीदनी पड़ी। वह अन्य लोगों को बताना चाहते थे कि साइकिल की सीट चोरी होने से कितना नुकसान होता है। फिलहाल पुलिस ने आरोप को गिरफ्तार कर लिया है और उसे पूछताछ कर रहे है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned