महिला को आंगन में दिखी 8 नीली आंखों वाली 'डरावनी' मकड़ी, देखकर हो गई थी ऐसी हालत

आपने मकड़ी के बारे में कई प्रकार खबरें पढ़ी होगी। जंगलों में रहने वाली कुछ मकड़ियां इतनी जहरी होती है जिनके काटने पर इंसान मौत तक हो जाती है। कुछ मकड़ियां बहुत बड़ा जाल बनती है जिसमें कई जानवर फंस जाते है, जो उनका आहार बन जाता है। आज आपको एक ऐसी मकड़ी के बारे में बताने जा रहे है जिसके आठ आंखें है।

By: Shaitan Prajapat

Published: 08 Oct 2020, 05:50 PM IST

आपने मकड़ी के बारे में कई प्रकार खबरें पढ़ी होगी। जंगलों में रहने वाली कुछ मकड़ियां इतनी जहरी होती है जिनके काटने पर इंसान मौत तक हो जाती है। कुछ मकड़ियां बहुत बड़ा जाल बनती है जिसमें कई जानवर फंस जाते है, जो उनका आहार बन जाता है। आज आपको एक ऐसी मकड़ी के बारे में बताने जा रहे है जिसके आठ आंखें है। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में एक महिला को अपने घर में मकड़ी की नई प्रजाति मिली है। एक रिपोर्ट के अनुसार, अमांडा डी जॉर्ज ने 18 महीने पहले आठ आंखों वाले क्रिएचर को देखा। इस दौरान उनको एक मकड़ी नजर आई। उन्होंने इसकी तस्वीरें एक्सपर्ट्स के पास भेजी।

यह भी पढ़े :— अद्धुत प्रतिभा! टाइपराइटर से बनाता है तस्वीरें, गिनीज बुक रिकॉर्ड में चाहते हैं नाम

spider

प्रकृति प्रेमी अमांडा डी पहले बार में यह पता नहीं चला था कि एक साल पहले जोटस ब्रशेड जंपिंग स्पाइडर की नई प्रजाति को देखा थ। 8 नीली आंखों वाली इस मकड़ी की तस्वीरें खींची और उन्हें फेसबुक गुप बैकयार्ड जूलॉजी पर शेयर किया। इन तस्वीरों को पोस्ट करते हुए डी जॉज ने लिखा, 'तो मैं एक अच्छे इंसान की तरह रिसाइकलिंग कर रही थी, जब मैंने बिन के ढक्कन पर एक छोटा लेकिन पूरी तरह से सुंदर जम्पिंग स्पाइडर देखा।' इसके साथ ही उन्होंने मकड़ी की नीली आंखों के बारे में विस्तार से बताया।

यह भी पढ़े :— गजब! एक ही पेड़ पर आते है 40 प्रकार के फल, कीमत जानकर उड़ जाएंगे होश

 

मकड़ी विशेषज्ञ जोसेफ शुबर्ट ने इस पोस्ट को ध्यान देखा और इस लिखा, कई महीनें की खोज के बाद वो मकड़ी को पकड़ने में कामयाब रहीं। अमांडा डी जॉर्ज ने इसे पकड़कर एक खाली कंटेनर में डाल दिया। उनको फिर दूसरी मकड़ी भी नजर आई, उसको दूसरे कंटेनर में रखा गया। अगर यह एक ही कंटेनर में होतीं तो एक दूसरे को खा सकती थीं। मकड़ियों की एक नई प्रजाति की पहचान करने में मदद करने के बारे में डी जॉर्ज ने कहा कि सच में यह बहुत एक्सटाइटिंग था। जब आप साइंस में अपना कुछ योगदान देते हैं तो बहुत अच्छा लगता है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned