लॉकडाउन में विकसित शौक को 91 साल की महिला ने बनाया अपना मिशन, ऐसे करती हैं दूसरों की मदद

  • Inspirational story : उम्रदराज महिला ने लॉकडाउन में बच्चों के लिए तैयार किए ऊनी कैप
  • स्कूल में डेानेशन देने के बजाय उन्होंने लॉकडाउन में समय का सदुपयोग करने के लिए किया ये काम

By: Soma Roy

Published: 03 Dec 2020, 04:58 PM IST

नई दिल्ली। लॉकडाउन के चलते भले ही दुनिया का महौल बदल गया हो, लेकिन इस मुश्किल वक्त में भी कुछ लोगों ने समय का सदुपयोग किया। इन्हीं में से एक है 91 वर्षीय महिला लुईस कार्टर। वह उम्र से भले ही बुढ़ी हो गई हो, लेकिन दूसरों की मदद करने का जुनून उनमें खूब बरकार है। तभी उन्होंने लॉकडाउन में विकसित हुए अपने शौक के जरिए जरूरतमंद बच्चों की मदद करने की ठानी। वह अपने हाथों से वुलेन टोपियां बनाकर बच्चों में बांटती हैं। उनके इस काम की सराहना सोशल मीडिया पर भी हो रही है।

कार्टर एक रिटायर्ड ओंकोलॉजी नर्स स्पेशलिस्ट हैं। महामारी से पहले वह हॉलीडे पार्टीज या रिटायरमेंट सेंटर्स में गिफ्ट करने के लिए विंटर कैप बनाती थीं। मगर लॉकडाउन के बाद से उनका ये शौक अधूरा रह गया, लेकिन घर में बैठे-बैठे वक्त ज़ाया करने के बजाय उन्होंने खुद से ऊनी टोपियां बनाने के बारे में सोचा। वो रंग-बिरंगी ऊन लाईं और इससे कई टोपियां बनाईं। उन्होंने दूसरी की मदद को एक मिशन बनाकर लॉकडाउन के दौरान अपने काम को जारी रखा। वो ये सारी कैप सेंट जोसेफ इंडियन स्कूल के बच्चों को बांट रही हैं।

कार्टर का कहना है कि लॉकडाउन से पहले हर साल सर्दियों के शुरू होने से पहले वह इस स्कूल के बच्चों की मदद करती थीं। वह बच्चों को ठंड से बचाने के लिए स्कूल को कुछ धनराशि बतौर डोनेश देती थीं। जिससे बच्चों के लिए वुलेन कैप खरीदी जा सके। मगर लॉकडाउन में वह डोनेशन दे नहीं सकीं। साथ ही घर पर बोर होने की जगह उन्होंने अपने हाथों से कैप तैयार करने के बारे में सोचा। उन्होंने अपने हुनर से ये काम आसानी से कर लिया। इस काम में उन्हें काफी मजा आया। कार्टर कहती हैं - "जब लॉकडाउन की शुरुआत हुई तो मुझे ये लगने लगा कि मैं खुद को दिन-रात इस घर में लॉक करके कैसे रहूंगी। फिर मैंने कलरफुल कैप बनाना शुरू किया। ये काम मेरे लिए मजेदार था। मुझे ये लगा कि मैंने अपने वक्त को बर्बाद करने के बजाय इसका सही इस्तेमाल किया। उन्हें डोम शेप वाले कैप बनाना पसंद है। इसे बनाने में करीब 6 घंटे लगते हैं।

Show More
Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned